हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा के बीच देवी-देवताओं का समागम, देवमय हुई शुकदेव वाटिका

शुकदेव ऋषि की तपोस्थली शुकदेव वाटिका देवी-देवताओं के समागम से देवमय हो गई। इस मौके पर हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्यस्तरीय “सुकेत देवता मेला” का शुभारंभ किया। शुकदेव वाटिका से सुकेत मंच तक भव्य जलेब में देवी-देवताओं संग मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, विधायक सुंदरनगर राकेश जम्वाल भी मौजूद रहे।   

 हिमाचल में पहली बार हेलीकॉप्टर के माध्यम से जलेब पर पुष्प वर्षा कर देवी-देवताओं का अभिनंदन किया गया। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मेला स्थल में रिबन काटने के उपरांत ध्वजारोहण से मेले शुरुआत की। वहीं इस अवसर पर सुंदरनगर क्षेत्र के विभिन्न स्कूलों और कॉलेज के विद्यार्थियों द्वारा स्वस्तिवाचन का भी पाठ किया गया।  बता दें कि प्रदेश सरकार द्वारा पारंपरिक सुकेत देवता मेला को स्तरोन्नत कर राज्यस्तरीय सुकेत देवता मेला किया गया है।   

सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश देवभूमि है, देव संस्कृति से जुड़ना ही हमारी प्रगति का प्रतीक है। इससे पूर्व सुंदरनगर के देवता मेला को सूक्ष्म रूप से मनाया जाता था। लेकिन इस बार भव्य रूप से राज्यस्तरीय देवता मनाया जा रहा है। सुकेत देवता मेला के शुभारंभ पर मुख्यमंत्री ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों की आस्था कम होती जा रही है। लेकिन इस तरह से आस्था को भूल जाना बहुत गलत और दुर्भाग्यपूर्ण होगा। वहीं उन्होंने कहां की सुंदर नगर विधानसभा क्षेत्र के विकास की दृष्टि से आगे ले जाने के लिए हर संभव मदद की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों के मन में धारणा थी कि सरकार 5 वर्ष के लिए होती है, लेकिन इस धारणा में धीरे-धीरे परिवर्तन आ रहा है, हाल ही में पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में 4 राज्यों में भारतीय जनता पार्टी ने अपना परचम लहराया है। उन्होंने दावा किया कि आने वाले विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की डबल इंजन की सरकार प्रदेश में एक बार फिर स्थापित होगी।