गेहडवीं क्षेत्र की ग्राम पंचायतों के कार्यकर्ताओं के साथ मिलन समारोह आयोजित

बिलासपुर  – गेहडवीं क्षेत्र की ग्राम पंचायत गुगा गेहडवीं,  बेरिमियां, जांगला, बडोल देवी के कार्यकर्ताओं के साथ मिलन समारोह का आयोजन सरस्वती विद्या मंदिर गेहडवीं में किया गया। इस कार्यक्रम में झंडूता विधानसभा क्षेत्र विधायक जीत राम कटवाल ने  शिरकत की।    
    विधायक ने बताया की गेहडवीं क्षेत्र की 9 ग्राम पंचायतों के लोगों की पीने के पानी की समस्या को हल करने के लिए 19 करोड़ रुपए की पेयजल योजना के अंतर्गत काहरवीं नाले से गोविंद सागर झील से प्रतिदिन 30 लाख लीटर पेयजल उठाया जाएगा। इस पेयजल योजना के तहत पंचायतो में 40 जल भंडारण टैंकों का निर्माण  किया जा रहा है। उन्होंने बताया की 9 पंचायतों के लगभग 60 गांव के 30 हजार ग्रामीणों की प्यास इस योजना से बुझेगी। उन्होंने बताया कि पर्वतधारा योजना के अंतर्गत 3 करोड़ 68 लाख रुपये से सलासी, जांगला, गेहडवीं, बडोल देवी तथा बैहना जट्टां पेयजल योजनाओं के स्त्रोत रुक्मणी कुंड का सम्वर्धन का कार्य प्रगति पर है।
इस क्षेत्र के स्थानीय युवाओं को रोजगार देने के उदेश्य से   गेहडवीं के बरसड़ में डस्ट्रियल एरिया की स्वीकृती करवाई। इसका  शीघ्र मुख्यमंत्री द्वारा शिलान्यास  किया जाएगा।
उन्होंने गेहडवीं क्षेत्र के विकास कार्यों का उल्लेख करते हुए बताया कि गेहडवीं क्षेत्र की सड़कों पर 28 करोड़ रुपये खर्च किये जा रहे है। जिसमे समोह से गेहडवीं, थुरान सड़क के सुधारीकरण पर 10 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे है। सलासी से हीरापुर सड़क पर 2 करोड़ 50 लाख रुपये खर्च किये गए।
पशु औषधालय सेरूवा पर भवन पर 68 लाख रुपये खर्च किए जा रहे हैं। इस भवन का निर्माण कार्य लगभग पूर्ण कर लिया गया है तथा शीघ्र ही लोकार्पण कर दिया जाएगा। इस भवन के बन जाने से लोगों की पुरानी मांग पूरी हो जाएगी तथा पशु धन के रखरखाव में लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी।
इस अवसर पर प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य हरदयाल सिंह चंदेल, प्रदेश प्रवक्ता किसान मोर्चा प्रवेश शर्मा, मंड़ल अध्यक्ष मोहेंद्र चन्देल, पंचायत समिति अध्यक्ष अभिषेक चन्देल, महिला मोर्चा अध्यक्ष रचना ठाकुर, पंकज शर्मा, मंडल मीडिया प्रभारी अनूप महाजन,  पंचायत समिति उपाध्यक्ष शेर सिंह, मंडल उपाध्यक्ष अमर नाथ, देव प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष सुशील नड्डा, पूर्व मंडल अध्यक्ष सुभाष मन्हास तथा इन्द्र सिंह चन्देल उपस्थित रहे।