उपायुक्त डीसी राणा ने की कार्यक्रम की अध्यक्षता 

चंबा, 26 जुलाई

कारगिल विजय दिवस के मौके पर उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला सैनिक बोर्ड  डीसी राणा की अध्यक्षता में उपायुक्त कार्यालय के सम्मेलन कक्ष  में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान कारगिल युद्ध में शहीद हुए  जांबाजों के प्रति श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए जिन्होंने  देश की संप्रभुता के  लिए अपने प्राणों को न्यौछावर किया था ।

उपायुक्त डीसी राणा ने  द्वीप प्रज्ज्वलन  व पुष्प अर्पित कर चंबा के कारगिल युद्ध नायक शहीद आशीष थापा को भावभीनी श्रद्धांजलि दी।

 पूर्व सैनिकों, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अमित मेहरा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोद धीमान ,सहायक आयुक्त रामप्रसाद , एसडीएम चंबा नवीन तंवर और कार्यालय के अधिकारियों व कर्मचारियों ने भी  पुष्प अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी ।

इसके उपरांत कारगिल युद्ध के शहीद नायकों के शौर्य को नमन  व कृतज्ञता के लिए उपायुक्त की अध्यक्षता में शपथ का आयोजन भी किया गया । उपस्थित लोगों ने यह शपथ ली-   “हम कारगिल युद्ध के उन वीर शहीदों को देश की अखंडता व सम्मान की रक्षा हेतु अपने अदम्य साहस का परिचय देते हुए, अपने प्राण न्यौछावर किए हैं, उनकी पुनीत स्मृति एवं शौर्य को नमन करते हुए प्रतिज्ञा करते हैं, कि देश के गौरवमय इतिहास की रक्षा हेतु पूर्ण रूप से समर्पित रहगें”।

कार्यक्रम में डीसी राणा ने पूर्व सैनिक कृपाल सिंह, देवेन्द्र सिंह, कमलेश सिंह, दिनेश राज और कुलदीप सिंह को शाल व टोपी भेंट कर सम्मानित भी किया ।

इस दौरान पूर्व सैनिकों ने अपने अनुभव भी उपायुक्त के साथ साझा किए।

उपायुक्त  ने कहा कि कारगिल युद्ध पाकिस्तान के साथ तीसरा युद्ध था जो  लगभग 60 दिन चला । इस युद्ध में हिमाचल के  52 जवान शहीद हुए। उनमें से जिला  के  तीन जवान शामिल थे। दो परिवार पड़ोसी जिला में बस गए हैं ।

उन्होंने ये भी कहा देश की रक्षा के लिए हमारे सैनिक हमेशा तत्पर रहते हैं ।  भले ही परिस्थितियां  कैसी भी हों ।   सैनिकों के देश प्रेम व कर्तव्य  निष्ठा के प्रति संपूर्ण राष्ट्र वासी ऋणी है । इसके परिणाम स्वरूप  हम सभी देशवासी शांति और अमन से अपने घरों पर सुरक्षित रहते हैं। उन्होंने कहा कि

 लोगों में देश प्रेम की भावना , काम में मेहनत व लगन और निष्ठा  सही मायनों में देश के लिए  हमारा योगदान होगा।