09 से 15 अगस्त तक कार्यान्वित किया जाएगा स्वच्छ हिमाचल अभियान-2021

प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार सोलन जिला में 09 अगस्त से 15 अगस्त, 2021 तक स्वच्छ हिमाचल अभियान-2021 कार्यान्वित किया जाएगा। यह जानकारी आज यहां उपायुक्त सोलन कृतिका कुल्हारी ने इस सम्बन्ध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

कृतिका कुल्हारी ने कहा कि यह अभियान ‘कूड़ा-कचरा उन्मूलन श्रमदान कार्यक्रम’ के रूप में कार्यान्वित किया जाएगा।

उपायुक्त ने कहा कि शहरी स्थानीय निकाय, सरकारी, अर्द्ध सरकारी एवं गैर सरकारी विभाग, स्वयंसेवी संस्थाएं, सभी ग्राम पंचायतें, जिला परिषद, पंचायत समितियां, ग्राम स्तरीय जल एवं स्वच्छता समितियां, महिला एवं युवक मण्डल, स्वयंसेवी संस्थाएं तथा जैव विविधता प्रबन्धन समितियां इस अभियान को सफल बनाने में पूर्ण समन्वय एवं एकजुटता के साथ कार्य करेंगी।

कृतिका कुल्हारी ने कहा कि अभियान का मुख्य उद्देश्य जन-जन को स्वच्छता के विषय में जागरूक बनाना है ताकि हम सभी स्वयं स्वस्थ रहते हुए स्वस्थ प्रदेश एवं देश के निर्माण में पूर्ण रूप से सहभागी बन सकें। उन्होंने कहा कि स्वच्छता आग्रह का विषय नहीं अपितु हम सबका उत्तरदायित्व है। उन्होंने कहा कि यदि प्रत्येक व्यक्ति अपने घर एवं परिवेश की सफाई के साथ-साथ आपसी समन्वय के साथ वृहद स्तर पर साफ-सफाई में अपना योगदान दें तो सही मायनों में स्वच्छता प्राप्त की जा सकती है।

उपायुक्त ने कहा कि 09 अगस्त से 15 अगस्त, 2021 तक कार्यान्वित किए जाने वाले स्वच्छ हिमाचल अभियान के तहत जिला सोलन को वास्तविक अर्थों में स्वच्छ बनाने के लिए कार्य किया जाएगा। जिला के सभी कस्बों, शहरों एवं ग्राम पंचायतों में कूड़े-कचरे की सफाई की जाएगी, जल स्त्रोतों को स्वच्छ किया जाएगा, राष्ट्रीय, राज्य व जिला स्तरीय राजमार्गों के आसपास, आवासीय एवं विभागीय परिसरों, अस्पतालों एवं सैप्टिक टैंकों इत्यादि की सफाई की जाएगी।

कृतिका कुल्हारी ने कहा कि इस अभियान के अन्तर्गत घरों से कूड़ा-कचरा एकत्रित करने, जन-जन को ठोस कचरा प्रबन्धन के बारे में जागरूक बनाने तथा घर के स्तर पर ही कचरे को अलग-अलग करने के विषय में जानकारी दी जाएगी। अभियान के तहत प्लास्टिक कचरे को एकत्र कर उसका नियमानुसार निष्पादन भी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जिला के तहत आने वाले वन क्षेत्रों की सफाई एवं वनों में नदी, नालों एवं तालाबों की सफाई भी अभियान में की जाएगी। राज्य प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड के जिला कार्यालय द्वारा औद्योगिक क्षेत्रों में तथा पर्यटन विभाग द्वारा होटलों, रेस्तरां सहित पर्यटन क्षेत्रों में सफाई अभियान कार्यान्वित किया जाएगा।

उपायुक्त ने कहा कि शिक्षा विभाग द्वारा ऑनलाइन माध्यम से ऐसी चित्रकला, नारा लेखन, वाद-विवाद, निबन्ध लेखन प्रतियोगिताएं एवं व्याख्यान श्रृखंलाएं आयोजित की जाएंगी।

कृतिका कुल्हारी ने कहा कि अभियान को सफल बनाने एवं जन-जन की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए अलग-अलग दिवस पर अलग-अलग गतिविधियां आयोजित की जाएंगी।

उन्होंने कहा कि अभियान के तहत श्रेष्ठ कार्य करने वाले स्थानीय शहरी निकायों एवं ग्राम पंचायतों को पुरस्कृत भी किया जाएगा।

कार्यक्रम के तहत कोविड-19 नियमों का पूर्ण पालन सुनिश्चित बनाया जाएगा।

अतिरिक्त उपायुक्त सोलन ज़फ़र इकबाल ने अभियान की विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने सभी उपमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिए कि उपमण्डल स्तर पर इस अभियान में सभी स्थानीय शहरी निकायों, नगर पंचायतों एवं ग्राम पंचायतों की भागीदारी सुनिश्चित बनाएं।

जिला परिषद अध्यक्ष रमेश ठाकुर, उपमण्डलाधिकारी सोलन अजय यादव, उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ महेन्द्र पाल गुर्जर, उपमण्डलाधिकारी अर्की शहज़ाद आलम, उपमण्डलाधिकारी कसौली डॉ. संजीव धीमान, उपमण्डलाधिकारी कण्डाघाट डॉ. विकास सूद, वन मण्डलाधिकारी नालागढ़ यशुदीप सिंह, वन मण्डलाधिकारी कुनिहार हितेन्द्र गुप्ता, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुरेन्द्र तेगटा सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।