सोलन में महिलाओं के डबल मर्डर केस मे पुलिस ने किए 2 लोग गिरफ्तार

हिमाचल में कालका-शिमला हाईवे के किनारे गठरियों में लाशों  को बांध कर फैंकने वालों के गिरेवान तक खाकी पहुंच गई है। सूत्रों के  मुताबिक पुलिस ने चंडीगढ़ के आसपास से दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया है। जल्द ही गठरियों में मिली महिलाओं की लाशों के राज से पर्दा हट जाएगा। शुरुजाती जांच में ये डबल ब्लाइंड मर्डर प्रतीत हुआ, लेकिन खाकी भी मुस्तैद थी। सबसे बड़ी चुनौती  लाशों की शिनाख्त की हुई। दो दिन पुलिस को शिनाख्त में ही लग गए। हर कोई यही समझ रहा था कि अगर शिनाख्त में सफलता नहीं मिली तो ये डबल मर्डर भी हमेशा के लिए फाइलों में ही दफन हो जाएगा।

मरने वाली 27 वर्षीय निशा देवी मूलतः ऊना जिला की रहने वाली थी जबकि 31 वर्षीय गीता का ताल्लुक पंजाब के बठिंडा से था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ये साफ हो गया था कि गला घोंट कर हत्या की गई है। अब पुलिस के सामने गुनहगारों को दबोचने का चैलेंज था।

जांच के दौरान सीसी फुटेज में परवाणु से हिमाचल दाखिल होने वाले वाहनों पर नजर डाली गई। पुलिस को कैमरे में दिखाई दिया कि एक कार टाटा विस्टा परवाणु बैरियर से क्रॉस हुई कुछ ही देर बाद वो वापस लौट गई।

आखिर में पुलिस दो संदिग्धों के गिरेवान तक पहुंची। पुलिस काफी हद तक सुनिश्चित है कि हिरासत में लिए गए शख्स ही गुनहगार हैं। उम्मीद की जा रही है पुलिस अगले 24 घंटे में इस वारदात से पर्दा उठा देगी। ये भी बताया गया कि हिरासत में लिए गए दोनों ही शख्स पेशे से ड्राइवर हैं।

परवाणु के डीएसपी योगेश रोल्टा ने माना कि दो व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है। उन्होंने इस बात से इंकार नहीं किया कि जल्द ही दोहरे हत्याकांड की वारदात से पर्दा हटा दिया जाएगा। बता दे कि इस मामले में डीएसपी परवाणु योगेश रोल्टा की अध्यक्षता में एसआईटी का गठन किया गया था।