विधायक पवन नैय्यर ने ग्राम पंचायत भडीयांकोठी का किया दौरा

गरीब परिवारों को गरीबी रेखा से ऊपर लाने के लिए उन्हें अजीविका गतिविधियों से जोड़ा जा रहा है। प्रदेश की 90 प्रतिशत आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में रहती है और उनके व्यवसाय का मुख्य स्रोत कृषि है। यह बात विधायक पवन नैय्यर ने ग्राम पंचायत भडीयांकोठी के गांव भानीयां में जनसभा को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि कम लागत पर प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है। किसानों की फसलों को आवारा पशुओं से बचाने तथा बेहतर सिंचाई सुविधा प्रदान करने के लिए भी योजनाएं बनाई गई है ताकि किसानों व बागवानों की आमदनी में वृद्धि हो सके।

इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने सामाजिक,आर्थिक तथा शारीरिक रूप से असहाय लोगों के जीवन स्तर में सुधार लाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र चंबा में विद्यार्थियों की शिक्षा गुणवत्ता से लेकर सड़कों व पुलों के निर्माण,स्वास्थ्य सेवाएं, यातायात साधनों की सुविधाएं तथा हर घर को स्वच्छ जल उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से प्राथमिकता के साथ प्रयास किए जा रहे हैं। ताकि आम जनमानस को किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े।

उन्होंने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना रोजगार सृजन करने में अब तक की सर्वाधिक लोकप्रिय योजनाएं बनकर उभरी है। इस योजना के तहत महिलाओं को मिलने वाले अनुदान को 30 से बढ़ाकर 35 प्रतिशत तथा अनुसूचित जाति,जनजाति एवं दिव्यांगों के अनुदान को 25 से बढ़ाकर 30 प्रतिशत कर दिया गया है।

इस दौरान विधायक पवन नैयर ने राजेरा से भानिंया पुल निर्माण,भनेरा से कोलका तथा तडग्रां संपर्क सड़क मार्ग के निर्माण कार्य का निरीक्षण भी किया। और संबंधित विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि निर्माण कार्य में तेजी लाई जाए। इस दौरान उन्होंने लोगों की समस्याओं को सुना और अधिकतम का मौके पर निवारण भी किया।

इस अवसर पर अध्यक्ष जिला परिषद नीलम कुमारी, मंडल अध्यक्ष विनोद कुमार, प्रधान ग्राम पंचायत भडियांकोठी मनीष कुमार व विभिन्न पंचायतों से आए प्रतिनिधियों सहित अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।