वारदात : पहले दोस्तों के साथ मिलकर मां के प्रेमी को मारा फिर पैट्रोल से जलाया चेहरा……..

नहर से बरामद हुआ शव, मामले की जांच में जुटी पुलिस…

गांव अटायल से एक शख्स की बेरहमी से हत्या का मामला सामने आया है। मृतक अनिल को पहले तो गांव के ही रहने वाले राकेश और उसके ही परिवार के रहने वाले पांच युवकों ने गांव से अपहरण कर लिया।

इसके बाद उन्होंने भीष्म वारदात को अंजाम देते हुए अनिल को चाकुओं से गोद कर मौत के घाट उतार दिया। बाद में शव को क्षत-विक्षत करने के लिए उसके चेहरे पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी और शव को पश्चमी यमुना लिंक नहर में फेंक दिया।

हालांकि, पुलिस ने इस पूरे मामले में पहले तो अपहरण का मुकदमा दर्ज किया था, लेकिन सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने इसमें हत्या की धारा भी जोड़ दी।

सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर दिया जाएगा, ताकि इनसे गहनता से पूछताछ की जा सके। मामला हरियाणा के सोनीपत से जुड़ा है।

पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार 22 फरवरी की देर रात अटायल गांव के राजकुमार नाम के शख्स ने शिकायत दी थी कि उसके भाई अनिल का गांव के ही कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया है और वह उसे जान से मारने की फिराक में है।

इस पूरे मामले में हमने गहनता से जांच की और पाया कि गांव के रहने वाले राकेश ने ही अपने ही परिवार के पांच युवकों के साथ मिलकर पहले अनिल का अपहरण किया और बाद में उसको चाकू से गोदकर मौत के घाट उतार दिया। बाद में उसके चेहरे पर पेट्रोल डालकर जला दिया था कि शव की पहचान ना हो सके।

पूछताछ के दौरान आरोपी राकेश ने बताया कि मृतक अनिल उसकी मां पर बुरी नीयत रखता था। अटायल गांव का 48 साल का अनिल पेशे से चालक था। गांव की विधवा महिला से प्रेम संबंध था। विधवा महिला के बेटे राकेश को जब इस बारे में पता चला तो उसने अपने परिवार के रहने वाले पांच युवकों अनिल की हत्या की पूरी साजिश रच डाली।

पहले तो राकेश ने अपने परिवार के ही पांच युवकों हिमांशु, संदीप, रवि, मोनू और अंकित के साथ मिलकर राकेश का गांव से अपहरण किया और बाद में उसे गांव सटवाली और कैलाना के बीच में ले गए और चाकू से गोदकर हत्या कर डाली। बाद में उसके शव को क्षत-विक्षत करने के लिए उसके चेहरे पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी और शव को पश्चिमी यमुना लिंक नहर में फेंक दिया, ताकि उसका शव बरामद ना हो सकें।

पुलिस ने मृतक अनिल के भाई की शिकायत पर तत्परता से अपहरण का मुकदमा दर्ज किया और उसकी तलाश शुरू की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने इस पूरे मामले में सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

गन्नौर थाना प्रभारी धीरज कुमार ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले की जांच जारी है।