वन संरक्षण सभी का सामूहिक उत्तरदायित्व-राकेश पठानिया

वन-युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री राकेश पठानिया ने कहा कि हिमाचल सहित समूचे उत्तर भारत के लिए स्वच्छ पर्यावरण एवं वन संरक्षण अत्यन्त आवश्यक है तथा प्रदेश सरकार वन संरक्षण एवं संवर्धन के लिए योजनाबद्ध कार्य कर रही है। राकेश पठानिया आज सोलन जिला के कण्डाघाट उपमण्डल की ग्राम पंचायत छावशा के डूमेहर में 72वें वृत्त स्तरीय वन महोत्सव एवं त्रिदेव वाटिका का शुभारम्भ करने के उपरान्त उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने पीपल का पौधा रोपित कर वन महोत्सव का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर देवदार, बान, दाड़ू, बेल पत्र, केला तथा पीपल के 400 से अधिक पौधे रोपे गए।

राकेश पठानिया ने कहा कि प्रदेश में वन संरक्षण एवं संवर्धन की दिशा में आमजन की सहभागिता बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य की सभी ग्राम पंचायतों के वार्ड सदस्यों को अपने-अपने वार्ड में पौधे रोपित करने के लिए 51-51 पौधे निःशुल्क वितरित कर रही है। उन्हांेने सभी से आग्रह किया कि रोपित किए गए पौधों की उचित देखभाल सुनिश्चित बनाएं ताकि ये पौधे स्वस्थ वृक्ष बन सकें। उन्होंने कहा कि वनों का संरक्षण हिमाचल में औद्योगिक क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए भी आवश्यक है। स्वच्छ पर्यावरण बेहतर उद्योग की स्थापना के लिए ज़रूरी है।

वन मंत्री ने कहा कि वनों के संरक्षण से हम आर्थिक रूप से भी सशक्त बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि वनों के वैज्ञानिक दोहन से अनेक ऐसी औषधीय जड़ी-बूटियां प्राप्त की जा सकती हैं जो असाध्य रोगों की दवाएं बनाने में काम आती हैं। उन्होंने ऐसे वृक्ष रोपित करने पर बल दिया जो स्थानीय जलवायु के अनुकूल होने के साथ-साथ आर्थिकी को सुदृढ़ करने में भी सहायक बन सकें।

राकेश पठानिया ने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार आमजन के कल्याण के लिए पूर्ण रूप से समर्पित है। कोविड-19 संकट से जन-जन को सुरक्षित रखने की दिशा में केन्द्र तथा राज्य सरकार लक्षित कार्य कर रही है। उन्होंने कहा हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा अभी तक राज्य के लगभग 76 प्रतिशत लोगों का कोविड-19 से बचाव के लिए प्रथम टीकाकरण किया गया है। शीघ्र ही हिमाचल प्रदेश देश का ऐसा पहला राज्य होगा जहां शत-प्रतिशत लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित होगा।

युवा सेवाएं एवं खेल मंत्री ने हाल ही में सम्पन्न टोक्यो ओलम्पिक्स में भारत द्वारा 07 पदक जीतने पर खिलाड़ियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि देश की हाॅकी टीम ने हिमाचल के चम्बा जिला के एक खिलाड़ी भी शामिल था। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने इस खिलाड़ी को प्रोत्साहन स्वरूप एक करोड़ रुपए का नकद पुरस्कार तथा पुलिस विभाग में उपाधीक्षक का पद देने की पेशकश की है। उन्होंने कहा कि हिमाचल में प्रतिभाओं की कमी नहीं है और उचित संसाधन एवं सुविधाएं देकर इन प्रतिभाओं को निखारा जा रहा है।

राकेश पठानिया ने कहा कि क्षेत्र की क्यारी खिन्ना, चायल-टिक्कर मार्ग की वन स्वीकृति तथा इण्डोर स्टेडियम सोलन की स्वीकृति शीघ्र प्रदान की जाएगी। उन्होंने ग्राम पंचायत पौधना के पपलोल स्थित शहीद रोशन लाल खेल मैदान, ग्राम पंचायत रहेड़ के टिक्करी-टणांजी स्थित खेल मैदान तथा ग्राम पंचायत कनैर के कनैर घाटी स्थित खेल मैदान के लिए 13-13 लाख रुपए प्रदान करने की घोषणा भी की।

उन्होंने इस अवसर पर जनसमस्याएं सुनीं और अधिकारियांे को इनके शीघ्र निपटारे के निर्देश दिए।

प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी समिति के सदस्य डाॅ. राजेश कश्यप ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और उन्हें क्षेत्र की विकासात्मक मांगों से अवगत करवाया। उन्होंने सभी से आग्रह किया कोविड से बचाव के लिए नियम पालन करें और टीकाकरण अवश्य करवाएं।

भाजपा मण्डल सोलन के अध्यक्ष मदन ठाकुर ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे। ग्राम पंचायत छावशा के प्रधान ज्ञान सिंह ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर राकेश पठानिया की धर्मपत्नी वंदना पठानिया, प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी के सदस्य डाॅ. राजेश कश्यप, नगर निगम सोलन की पार्षद मीरा आनन्द, प्रियंका अग्रवाल, सुनीता, शकुंतला शर्मा, संजीव मोहन, शैलेन्द्र गुप्ता, रेखा साहनी, कुलभूषण गुप्ता, सुषमा शर्मा, रजनी, भाजपा जिला महामंत्री नंदराम कश्यप, भाजपा मण्डल सोलन के अध्यक्ष मदन ठाकुर, उपाध्यक्ष चन्द्रकांत शर्मा एवं गुरविन्द्र सिंह, महामंत्री संजीव सूद एवं भरत साहनी, सचिव अभिषेक ठाकुर, वरिष्ठ भाजपा नेता रविन्द्र परिहार, ग्राम पंचायत छावशा के प्रधान ज्ञान सिंह, ग्राम पंचायत कोट की पूर्व प्रधान सुनीता रोहाल, भाजपा तथा भाजयुमो के वरिष्ठ पदाधिकारी, वन अरण्यपाल ई. विक्रम, उपमण्डलाधिकारी कण्डाघाट डाॅ. विकास सूद, वन मण्डलाधिकारी नालागढ़ यशुदीप सिंह, खण्ड विकास अधिकारी कण्डाघाट हेमचंद सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।