लडभड़ोल में जंगली सब्जी खाने से एक ही परिवार के तीन सदस्‍य पड़े बीमार, अस्‍पताल में उपचाराधीन

लड़भड़ोल क्षेत्र के गांव गाहरा में जंगली सब्जी खाने से एक परिवार बीमार हो गया।

लडभड़ोल-लड़भड़ोल क्षेत्र के गांव गाहरा में जंगली सब्जी खाने से एक परिवार बीमार हो गया। उनको तुरंत लडभड़ोल अस्पताल लाया गया, जहां पर उनकी हालत स्थिर है। पीड़ितों में 47 वर्षीय महेंद्र सिंह उनकी पत्नी सत्या देवी और सास 85 वर्षीय दमोदरी देवी निवासी कशिरी शामिल हैं। मंगलवार दोपहर महेंद्र सिंह क्षेत्र की धार पहाड़ियों से धारा रा चकरू बकरू नामक देसी साग लेकर आए थे। घर पर उनकी पत्नी ने इसकी सब्जी बनाई थी। यह सब्जी तीनों ने खाई। इसे खाने के कुछ देर बाद ही तीनों को उल्टी दस्त शुरू हो गए। घर पर केवल तीन ही लोग थे। ऐसे में तबीयत बिगड़ने पर महेंद्र सिंह ने अपनी बहन रीता देवी को फोन कर तबीयत बिगड़ने की सूचना दी।

रीता देवी तुरंत अपने ससुराल से मायके पहुंची और अपने भाई-भाभी और भाभी की मां को टैक्सी के माध्यम से लडभड़ोल अस्पताल पहुंचाया। मौके पर मौजूद डॉक्टर अदिति अवस्थी ने तुरंत उनका उपचार आरंभ कर दिया। डॉ. अदिति अवस्थी ने बताया तीनों मरीजों को उपचार दिया जा रहा है। हालात स्थिर होने पर उनको छुट्टी दे दी जाएगी।

पहाड़ी इलाकों में लोग अकसर इस तरह जंगली बूटियां व सब्जियां इत्‍यादि खा लेते हैं। लेकिन कई बार यह घातक साबित हो जाती हैं और नौबत अस्‍पताल तक पहुंचाने की आ जाती है। ऐसे में लोगों को जानकारी के अभाव में इस तरह से जंगली आहार खाने से गुरेज करना चाहिए।