राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम के अंतर्गत कामधेनु हितकारी मंच नम्होल के लिए 8 करोड़ 63 लाख की योजना केन्द्र सरकार द्वारा स्वीकृत–पंकज राय

बिलासपुर 28 फरवरी – राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त पंकज राय ने कहा कि राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम के अंतर्गत कामधेनु कृषक एवं उपभोक्ता हितकारी मंच नम्होल को 8 करोड़ 63 लाख की योजना केन्द्र सरकार द्वारा स्वीकृत की गई है। इसके तहत 5 अलग-अलग कम्पोनेंट में से भड़ोली कलां में 5 करोड़ 4 लाख की लागत से मिल्क प्लांट का निर्माण कार्य शुरू किया गया है जिसमे से लिए 3 करोड़ 50 लाख की लागत से प्लांट व मशीनरी लगाई जाएंगी। इसे केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग के माध्यम से कार्यन्वित करवाने का निर्णय लिया गया है।  
उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत 2 करोड़ 10 लाख की लागत से जिला के 18 विभिन्न स्थानों पर मिल्क कुलैक्शन सैंटर स्थापित किए जाएंगे। इस योजना में 20 लाख की लागत से हिमाचल प्रदेश के 8 विभिन्न कस्बों में उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए मिल्क पार्लर भी स्थापित किए जा रहे है। इनके लिए सभी औपचारिकताएं पूरी की जा रही है। जिला के दुग्ध उत्पादकों के पशुओं के लिए पशुचारे की समस्या से निजात दिलाने के लिए साइलेज यूनिट स्थापित करने का निर्णय कामधेनु संस्था के परिसर नम्होल में लगाया जा रहा है। इसके लिए लोक निर्माण विभाग को 23 लाख रुपये की राशि आवंटित कर दी गई है।
बैठक में संस्था के लिए रेफ्रिजरेटर वैन खरीदने की प्रक्रिया के लिए भी औपचारिकताएं पूर्ण करने का निर्णय लिया गया है।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त तोरूल रवीश, कामधेनु कृषक एवं हितकारी मंच के प्रधान नानक चंद, सचिव जीत राम कौंडल, उपनिदेशक पशुपालन, डाॅ. लाल गौपाल सहित विभिन्न संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।