योजनाओं से आर्थिकी में लाएं सकारात्मक बदलाव- कृतिका कुलहरी.

योजनाओं से आर्थिकी में लाएं सकारात्मक बदलाव- कृतिका कुलहरी
उपायुक्त सोलन कृतिका कुलहरी ने कहा कि किसान, केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की योजनाओं का लाभ उठाकर अपनी आर्थिकी में सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं। कृतिका कुलहरी आज सोलन विकास खण्ड की ग्राम पंचायत हरिपुर में एकीकृत जलागम प्रबन्धन कार्यक्रम परियोजना के संस्थागत निर्माण एवं क्षमता वर्द्धन के तहत आयोजित एक दिवसीय जागरूकता कार्यक्रम के शुभारम्भ अवसर पर उपस्थित कृषकों, महिलाओं एवं ग्रामीणों को सम्बोधित कर रहीं थीं।
जागरूकता कार्यशाला में प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना, पशुपालन प्रबन्धन, समेकित बाल विकास परियोजना के अन्तर्गत कार्यान्वित की जा रही विभिन्न योजनाओं एवं हिमाचल प्रदेश कामगार कल्याण बोर्ड द्वारा संचालित की जा रही योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की गई।
कृतिका कुलहरी ने इस अवसर पर कहा कि किसानों एवं बागवानों के कल्याणार्थ संचालित की जा रही योजनाएं तभी सफल हो सकती हैं जब लक्षित वर्ग को इनकी पूर्ण जानकारी प्राप्त हो। इस दिशा में नियमित रूप से आयोजित किए जा रहे जागरूकता शिविर महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।
उपायुक्त ने विभिन्न विभागों को निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में समय-समय पर किसानों, पशुपालकों एवं महिलाओं के लिए जागरूकता कार्यक्रम तथा शिविर आयोजित किए जाएं। इन शिविरों में विभिन्न योजनाओं की पूर्ण जानकारी प्रदान की जाए ताकि सभी इनसे समय पर लाभ प्राप्त कर सकें।
खण्ड विकास अधिकारी सोलन रमेश शर्मा ने शिविर में किसानों का आह्वान किया कि ज़हर मुक्त खेती अपनाएं। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना एवं भारतीय नस्ल की गाय इस दिशा में किसानों के लिए अत्यन्त लाभदायक है। उन्होंने अन्य योजनाओं के विषय में भी जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर विभिन्न विभागीय योजनाओं की पूर्ण जानकारी प्रदान की गई।
इस एक दिवसीय प्राकृतिक खेती एवं पशु पालन, पशु प्रबन्धन जागरूकता अभियान में जिला परिषद सदस्य अमर सिंह ठाकुर ने भी केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की योजनाओं पर सारगर्भित प्रकाश डाला।
विभिन्न विभागीय प्रतिनिधियों ने योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की।
इस अवसर पर ग्राम पंचायत हरिपुर की प्रधान सुमन लता, उप प्रधान अफज़ल बेग, पंचायत समिति सदस्य अमर सिंह परिहार, ग्राम पंचायत सदस्य, जिला श्रम अधिकारी पृथ्वी सिंह वर्मा, कार्यक्रम संचालक मोहन चौहान, पंचायत निरीक्षक राजेन्द्र वर्मा, आयोजक सुरेश शर्मा, कृषि विभाग से अंवतिका, पशु पालन विभाग से डॉ. नीरज शर्मा तथा महिला एवं बाल विकास विभाग से सुपरवाईजर विभाष सिंह सहित ग्रामीण वासी उपस्थित थे।