मानसून को लेकर उपायुक्त  ने की विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ तैयारियों को लेकर बैठक

जल विद्युत परियोजनाएं पूर्व चेतावनी के लिए विकसित करें प्रभावी तंत्र

14 से 30 जून तक  चलेगा भांग उखाड़ अभियान- उपायुक्त

मानसून को लेकर उपायुक्त  ने की विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ तैयारियों को लेकर बैठक

चम्बा 7 जून….मॉनसून से पहले  जिला की  सड़कों व  रास्तों के   किनारे नालियों व नालों के वर्षा जल के मुक्त प्रवाह के उचित   व्यवस्था बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग व नेशनल हाईवे के अधिकारी उचित व्यवस्था बनाना सुनिश्चित करेंगे और निर्माणाधीन कार्य स्थलों  से निकलने वाले मक को भी मक डंपिंग साइट में उचित निस्तारण सुनिश्चित बनाया जाए |

 उपायुक्त चंबा डीसी राणा ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े  जिला के विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ मंडे मीटिंग में आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों और शहरी स्थानीय निकायों  में प्राकृतिक नालो में अतिक्रमण व प्रवाह में  अवरोध पैदा करने वाले लोगों को राजस्व विभाग सूचीबद्ध करें और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाएं ताकि संबंधित क्षेत्र में वर्षा जल का प्रवाह प्राकृतिक तौर पर बना रहे और रिहायशी इलाके  में नुकसान ना हो  |

 वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े विभिन्न विद्युत परियोजनाओं के प्रबंधन को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि मॉनसून के दौरान पूर्व चेतावनी के प्रसार के लिए प्रभावी तंत्र विकसित करें और बांध स्थलों से छोड़े जाने वाले पानी के नुकसान से बचने के लिए निचले क्षेत्रों में लोगों को सचेत करने के लिए प्रसार प्रणाली को अधिक मजबूती प्रदान करें और चिन्हित स्थानों पर वॉइस मैसेज रिकॉर्डिंग की जारी करें |

 उपायुक्त ने इस बात पर भी बल  देते हुए कहा कि  जल शक्ति विभाग संवेदनशील जलापूर्ति योजनाओं और जल स्त्रोतों में प्रभावी निगरानी सुनिश्चित बनाने के लिए उचित सफाई व्यवस्था तथा जल जनित रोगों से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए पंचायती राज संस्थानों से भी समन्वय स्थापित करें | ताकि मॉनसून के दौरान निर्बाध जलापूर्ति सुनिश्चित बनाई जा सके |

 विद्युत लाइनों के  नजदीक व संवेदनशील स्थानों पर सूखे वह खतरनाक पेड़ों को हटाने के लिए संबंधित  विभागों के अधिकारी  व पंचायती राज संस्थाएं  समय रहते आवश्यक कार्यवाही अमल में लाएं  | उन्होंने यह भी कहा कि जिन पंचायत घरों और स्वास्थ्य केंद्रों में सार्वजनिक नल नहीं लगे हैं 15 अगस्त तक उन्हें किसी भी सूरत में लगवाना सुनिश्चित करें और वर्षा जल संग्रहण टैंकों का निर्माण कार्यों में भी तेजी लाएं  |

 उपायुक्त ने खंड विकास अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि    आपदा से प्रभावी तौर से  निपटने के लिए ग्रामीण स्तर पर डिजास्टर रिस्पांस टीम के साथ खंड विकास अधिकारी  समन्वय  बनाए और मौजूदा पंचायत स्तर की आपदा समिति को पुनर्गठित कर अपडेट करें | इस समिति में विभिन्न विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों को भी इसमें शामिल करें | मौजूदा कोरोना के हालात को देखते हुए कोरोना उपयुक्त व्यवहार  व गाइड लाइन की भी अनुपालन इस दौरान सुनिश्चित बनाई जाए|  किसी भी घटना के दौरान  संबंधित वृत्त के पटवारी तथा पंचायत सचिव तुरंत  जानकारी  जिला आपदा प्रबंधन  नियंत्रण प्रकोष्ठ की हेल्प लाइन नंबर  1077 नंबर पर कॉल कर सूचित करेंगे, और घटना की तस्वीरों को भी शेयर करना सुनिश्चित बनाएंगे |

 बैठक में विभिन्न  विभागों के  फ्रंटलाइन वर्करों और निर्माण स्थलों तथा विद्युत परियोजनाओं में भी कामगारों  को लगाए जाने टीकाकरण कार्यो की भी समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि सभी  को शत प्रतिशत वैक्सीन लगाना सुनिश्चित बनाया जाए |

 उपायुक्त ने गोल्डन गोल व   चंबा चलो अभियान से जुड़े विभिन्न विभागों की कार्य योजना पर भी चर्चा करते हुए कहा कि एक सप्ताह के भीतर संबंधित विभाग अपनी प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत करें  |

 जिला में भांग उखाड़ो  अभियान में विभिन्न विभागों की सहभागिता को सुनिश्चित बनाने के लिए उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि जिस  स्थल पर भांग होगी राजस्व विभाग खसरा गिरदावरी के माध्यम से स्थान चिन्हित करेंगे और   भांग उखाड़ने की  जिम्मेवारी उसी विभाग की  तय होगी  | निजी भूमि पर प्राकृतिक तौर उगी भाँग को संबंधित मालिकों से पुलिस की मौजूदगी में नष्ट करवाई जाएगी |

 इस अभियान को 14 से 30 जून तक विशेष तौर पर चलाया जाएगा जिसमें पंचायती राज संस्थाओं के पदाधिकारी युवक मंडल महिला मंडल व वॉलिंटियर्स को भी शामिल किया जाएगा और कोरोना गाइडलाइन   की अनुपालन भी सुनिश्चित बनाई जाएगी और संबंधित इलाके के पटवारी रोजाना जिला राजस्व अधिकारी को रिपोर्ट करेंगे |

 बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त मुकेश रेप्सवाल 

, सहायक आयुक्त उपायुक्त रामप्रसाद शर्मा, पीओ डीआरडीए चंद्रवीर सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी  डॉक्टर करण हितेषी व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न उपमंडल के एसडीएम व खंड चिकित्सा अधिकारी तथा खंड विकास अधिकारी भी जुड़े रहे  |