महिलाओं को अपने अधिकारों के प्रति जागरूक रहने की आवश्यक – अनुपमा राय

बिलासपुर 7 मार्च – जिला ग्रामीण विकास अभिकरण कार्यालय बिलासपुर में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता अस्पताल कल्याण शाखा बिलासपुर की अध्यक्ष अनुपमा राय ने की।
उन्होंने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर सभी उपस्थित महिलाओं को शुभकामनाएं दी तथा समाज के हर क्षेत्र में महिलाओं के प्रवेश पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि आज हर क्षेत्र महिलाओं की उपलब्धियों से भरा पड़ा है तथा इन महिलाओं की उपलब्धियों को सलाम करने के लिए व महिला अधिकारों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए यह दिन मनाया जाता है।
डीआरडीए सभागार में पंडित दीन दयाल अंतोदय योजना की राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत जिला में बेहतरीन कार्य करने वाले 50 स्वयं सहायता समूहों तथा ग्राम संगठन की महिलाओं ने कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूहों से जुड़कर महिलाओं ने अपनी आर्थिकी को सुदृढ़ करते हुए स्वयं को सशक्त किया है।  
उन्होंने कहा कि बेटी अनमोल है तथा उन्हें बोझ न समझे। कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागी महिलाओं ने अपने-अपने समूहों के अनुभव साझा करते हुए सशक्तिकरण पर अपने विचार रखते हुए कहा कि कोरोना महामारी के समय महिलाओं ने निस्वार्थ सेवा भाव से मास्क बनाकर अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया तथा लोगों को वैक्सिन लगाने के लिए भी पे्ररित किया।
उन्होंने श्री नैना देवी जी खंड के री की जलपा स्वयं सहायता समूह को बैग निर्माण के लिए 15 हजार रुपये, सदर खंड की काॅलर पूजा स्वयं सहायता समूह को ऊनी बुनाई के लिए 10 हजार रुपये तथा झण्डूता के डमली पंचायत के सरस्वती स्वयं सहायता समूह पट्टा को दुग्ध उत्पादों के लिए हजार रुपये देकर सम्मानित किया गया।
इसी प्रकार एकता महिला ग्राम संगठन धार टटोह को 15 हजार रुपये, शिव पार्वती ग्राम संगठन बढ़ोल को 10 हजार रुपये तथा संस्कार ग्राम संगठन लुहावरी की महिलाओं को समूह की गतिविधियों के लिए 5 हजार रुपये देकर सम्मानित किया गया।
इस अवसर कंदरौर की मशरूम उत्पादक निर्मला धीमान को मशरूम उत्पादन में 3 हजार महिलाओं को प्रशिक्षण में उनके योगदान के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इससे पूर्व उन्हें मशरूम अनुसंधान निदेशालय चम्बाघाट द्वारा उत्तर भारत की नमो नमेशी उद्यमी पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।
कार्यक्रम के दौरान रस्साकशी, बैलून रेस, म्यूजिकल चेयर का भी आयोजन किया गया तथा विजेता महिलाओं को पुरस्कृत भी किया गया। इस अवसर पर जिला परियोजना अधिकारी राजेन्द्र गौतम, जिला कार्यक्रम प्रबंधक देश राज, बीडीओ हिमांशी सहित विभिन्न समूहों की महिलाओं ने भाग लिया।