भारत छोड़ों आन्दोलन की वर्षगांठ पर स्वतंत्रता सेनानी किए सम्मानित

बिलासपुर – भारत छोड़ों आन्दोलन की वर्षगांठ के अवसर पर आज घुमारवीं तहसील के गांव पेहडवीं के स्वतंत्रता सेनानी श्री शंकर दास को उपमण्डल अधिकारी(ना) घुमारवीं राजीव ठाकुर द्वारा राष्ट्रपति की ओर से शाॅल व अंग वस़्त्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

एसडीएम ने शंकर दास को उनके निवास स्थान गांव पेहडवीं तहसील घुमारवीं में जाकर सम्मानित किया तथा उनके स्वस्थ जीवन व दीर्घायु के लिए शुभ कामनाएं दी। इस अवसर पर श्री शंकर दास के साथ उनकी धर्मपत्नि रामदेई तथा पुत्र हेमन्त सुशील भी उपस्थित रहेे।

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी भारत छोड़ो आन्दोलन की वर्षगांठ पर राष्ट्रपति भवन दिल्ली में महामहिम राष्ट्रपति द्वारा स्वतत्रंता सेनानियों के सम्मान में होने वाले अतिथ्य समारोह का आयोजन कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत नहीं करवाया जा सका तथा प्रदेश सरकार ने सभी जिलों के उपायुक्तों, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारियों एवं उप-मण्डलाधिरियों को स्वतंत्रता सेनानियों को उनके घरों में जाकर सम्मानित करने के आदेश दिये थे।

इसी प्रकार घुमारवीं तहसील के अन्र्तगत गांव कोटलु ब्राहमणा के स्वतत्रंता सेनानी श्री सुख राम को भी उपमण्डाधिकारी (नागरिक) घुमारवीं राजीव ठाकुर ने शाॅल व अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित किया तथा राष्ट्रपति की ओर से उन्हें स्वस्थ जीवन की शुभ कामनाएं दी।

श्री सुख राम ने इस सम्मान के लिए सरकार का धन्यवाद किया। इस मौके पर उनका धर्मपत्नि अमृती देवी तथा उनके सपुत्र कुलदीप चंद पौत्र मनोज शर्मा उपस्थित रहे।

 स्वतंत्रता सेनानी श्री शालीग्राम निवासी पेहडवीं तहसील घुमारवीं के शिमला में उपचारधीन होने के कारण उनके सपुत्र दिनेश कुमार को उपमण्डल अधिकारी घुमारवीं राजीव ठाकुर ने राष्ट्रपति की ओर से शाॅल व अंग वस्त्र सौंपा।

इस दौरान एसडीएम कार्यालय के अधीक्षक एन.आर.धीमान, बकरोआ पंचायत के पटवारी भारत भूषण, राकेश व सुभाष चंद भी उपस्थित थे।