पत्र बम या निकलेगा दम, कांग्रेस को मिला नया मुद्दा

सोशल मीडिया पर लगातार खबर चली कि हिमाचल के एक मंत्री के खिलाफ भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व को एक शिकायत पत्र भेजा गया है और उस शिकायत पत्र में हिमाचल भाजपा के एक मंत्री पर भ्र्ष्टाचार के आरोप लगाए हैं तथा उनके साथ एक किसी आयोग की चेयरमैन के साथ अंतरंग संबधो की बात भी की गई।
दरअसल खबर ये है की पवन कुमार नाम के व्यक्ति ने एक ऐसा पत्र बम फेंका है जिससे भाजपा हिमाचल प्रदेश में आगामी चुनावों के दौरान चकनाचूर हो सकती है जी हां पवन कुमार ने सोशल मीडिया पर एक ऐसी पवन चलाई जिसमें एक मंत्री और एक आयोग की चेयरमैन को लपेटे में लिया है एक ऐसा चक्रवात कल चला जिसमें पवन कुमार ने पत्र के शुरुआत में लिखा है कि मैं पार्टी का वफादार सिपाही हूं और संग में पिछले 24 वर्षों से कार्य कर रहा हूं और  आलाकमान को जताते हुए कहा है कि यदि इस मंत्री के काले कारनामों पर रोक नहीं लगी तो वह दिन दूर नहीं जब आगामी चुनावों में भाजपा को काफी नुकसान हो सकता है इस में जयराम ठाकुर भी लपेटेे में आते दिखे पवन कुमार ने आलाकमान को यह भी कहा कि इस मंत्री के काले कारनामों का पता खुद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी है परंतु वह कुछ बोल नहीं पा रहे नहीं पा रहे हैं पवन कुमार के पत्र बम से कल सियासी गलियारों में हलचल मच गई पवन कुमार के पत्र में एक मंत्री के जिक्र के साथ-साथ एक महिला के साथ अंतरंग संबंधों की बात भी हुई है और विभिन्न विभिन्न होटलों का नाम भी उस पत्र में लिखा है और साथ ही यह भी कहा है कि होटलों में इन दोनों महिला और पुरुष के नाम के कमरे बुक होते हैं इस पत्र बम में यह भी कहा गया है कि कंपनियों से कैसे करोड़ों रुपए वसूले जा रहे हैं और किस प्रकार से यह गोरखधंधा गोरखधंधा चला है खैर यह तो पवन कुमार का पत्र बम था परंतु जो भी कहे इस बम ने सियासी हलचल तेज कर दी है अब देखना यह है कि पार्टी हाईकमान इस पर क्या डिसीजन लेती है परंतु जो भी कहे इस समय भाजपा के दिन ठीक नही चल रहे हैं। पत्र की बात करें तो उक्त व्यक्ति ने बकायदा होटलों के नाम लिखे है और ये कहा है कि रिकॉर्ड खंगाला जाए तो सच्चाई पता चल जाएगी। अब ये नही पता कि पवन कुमार की पवन सच्ची है या झूठी पर इससे भाजपा के पोलिटिकल ग्राफ को नुकसान जरूर होगा।

पत्र बम आते जाते रहते है इससे पहले भी राजनीति में ऐसे पत्र आ चुके है इसमें कितनी सत्यता है इस बारे में हम कुछ नही बोल सकते लेकिन इतना जरूर है पत्र बम को लेकर चर्चा जरूर है व ये तेजी से वायरल जरूर हो रहा है।