पटाखा फैक्ट्री ब्लास्ट में घायल हुई दो महिलाओं ने तोड़ा दम, पीजीआई में चल रहा था इलाज……..

ऊना : हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में पटाखा फैक्ट्री ब्लास्ट में घायल हुई दो महिलाओं ने चंडीगढ़ के पीजीआई
में दम तोड़ दिया। अब हादसे में मरने वालों की कुल संख्या आठ हो गई है। हादसे के बाद कुल 11 घायलों को
चंडीगढ़ रैफर किया गया था। इनमें से 8 का इलाज एडवांस ट्रामा सेंटर में चल रहा है। फेक्टरी में हुए हादसे में कुछ
घायल महिलाएं 90 फीसदी से ज्यादा जल चुकी हैं। इनकी हालत नाजुक बनी हुई है। अब तीन और महिलाओं की
मौत हो गई है, इनमें से अशकारी (40) और जाफरी की मौत हो गई है। फैक्टरी में हुए ब्लास्ट से 70 फीसदी से
अधिक शरीर झुलस जाने के कारण दो महिलाओं और एक पुरुष को और एडवांस ट्रामा सेंटर में भर्ती किया गया
है। फैक्टरी में ब्लास्ट होने की वजह से पटाखों के छर्रे घायलों की शरीर में लगे हैं, जिसकी वजह से हालत बेहद ही
नाजुक है। वहीं दूसरी तरफ जिला प्रशासन ने भी प्रदेश स्तर पर सरकार द्वारा मंडलायुक्त के नेतृत्व में गठित की गई
जांच कमेटी को देखते हुए स्थानीय स्तर पर गठित की गई एसडीएम के नेतृत्व वाली समिति को भंग कर दिया है।
डीसी ऊना राघव शर्मा ने पुष्टि करते हुए बताया कि एसडीएम को जांच के दिए गए आदेश वापस ले लिए गए हैं।
मामले की जांच मंडलायुक्त एसएस गुलेरिया ही करेंगे। वहीं उन्होंने पीजीआई में दो अन्य महिलाओं की मौत होने
की भी पुष्टि की है।