पंगवाल समुदाय की गौरवमई व समृद्धशाली संस्कृति का अभिन्न हिस्सा है जुकारू उत्सव

चम्बा, 2 फरवरी :- विधायक जियालाल  कपूर ने  जुकारू उत्सव के शुभ अवसर पर पांगी वासियों को  शुभकामनाएं दी है ।  अपने संदेश में जियालाल कपूर ने कहा है कि जनजातीय क्षेत्र पांगी उपमंडल में मनाया जाने वाला  जुकारू  उत्सव पंगवाल  समुदाय की गौरवमई व समृद्धशाली संस्कृति का अभिन्न हिस्सा है ।

 यह उत्सव  पूरे प्रदेश में अपनी अलग ही पहचान बनाए हुए हैं । जियालाल कपूर ने समस्त पांगी वासियों को जुकारू  उत्सव के दौरान पांगी घाटी के समस्त गांव के  देव स्थलों  में  धार्मिक आयोजनों व मेले की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि  आपसी भाईचारे व सामाजिक सौहार्द की अनूठी परंपराओं का निर्वहन आज के बदलते परिवेश में भी पांगी वासी बखूबी से करते आ रहे हैं ।  इससे ना केवल  अपनी पारंपारिक विरासत का बखूबी पालन किया जा रहा है अपितु युवा  पीढ़ी को भी अपनी मौलिक संस्कृति के अनमोल अंशो से रूबरू करवाया जा रहा है ।

गौरतलब है कि पखवाड़े तक चलने वाला जुकारू उत्सव   मौनी अमावस्या को सिल्ह  के नाम से शुरू होकर  पूर्णमासी को स्वांग मेले के साथ संपन्न होता है । इस दौरान प्रतिदिन स्थानीय लोगों द्वारा देवी देवताओं की पूजा अर्चना करने के साथ विशेषकर  दूसरे दिन धरती पूजन किया जाता है। इस दिन लोग सुबह अपने खेतों में जाकर धरती माता की पूजा करते हैं। खेत में आटे के बैल हल से जोताई की  मान्यता है । जो सर्दियों की समाप्ति और क्षेत्र में अच्छी  फसल के साथ प्रकृति के संरक्षण की दिशा में  घाटी के लोगों द्वारा मनाया जाने वाला पर्व है ।

 विधायक जियालाल कपूर ने समस्त घाटी वासियों की  सुख समृद्धि की कामना करते हुए    उत्सव व मेलों के दौरान कोविड- उपयुक्त व्यवहार की अनु पालना भी  सुनिश्चित बनाने का आग्रह  किया है ।