तीन दिवसीय मां शूलिनी मेला सम्पन्न

तीन दिवसीय मां शूलिनी मेला सम्पन्न

सोलन की अधिष्ठात्री देवी मां शूलिनी को समर्पित तीन दिवसीय राज्य स्तरीय मां शूलिनी मेला आज विधिवत रूप से संपन्न हुआ।
कोविड-19 नियमों के तहत सूक्ष्म पूजा अर्चना के उपरांत मां शूलिनी गंज बाजार स्थित प्राचीन मंदिर में अपनी बहन से मिलने के बाद वापिस अपने पीठ पधारी।
जिला प्रशासन सोलन ने कोविड-19 संकट के मध्य सोलन में आस्था एवं नियमों के बीच सन्तुलन बनाते हुए मां शूलिनी की शोभा यात्रा को सूक्ष्म रूप से निर्विघ्न सम्पन्न करवाकर धार्मिक परम्पराओं के निर्वहन तथा आमजन के विश्वास को बनाए रखने का श्रेष्ठ उदाहरण प्रस्तुत किया है।
सोलन की नव नियुक्त उपायुक्त कृतिका कुल्हारी ने मां शूलिनी की शोभा यात्रा को कोविड-19 नियमों के तहत निर्विघ्न सम्पन्न करवाने के लिए यह सुनिश्चित किया कि शोभा यात्रा न केवल सूक्ष्म रूप से आयोजित हो अपितु कोविड-19 से सुरक्षा के लिए स्थापित नियमों का पूर्ण पालन भी हो।
जिला दण्डाधिकारी ने कोरोना महामारी के मध्य आयोजन को सफल बनाने के लिए मां की शोभा यात्रा के आने-जाने के समय पर उन क्षेत्रों में कफ्र्यू लगाने के आदेश दिए जहां से सामान्य रूप से माता की शोभा यात्रा निकलती है। सोलन की जनता ने इन आदेशों का पूर्ण पालन किया। इससे न केवल शोभा यात्रा सफल रूप से आयोजित हुई आयोजित हुई अपितु लोगों की अटूट आस्था भी अक्षुण्ण रही।
मां शूलिनी की वापिसी के समय आज उपमण्डलाधिकारी सोलन अजय यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अशोक वर्मा, उप पुलिस अधीक्षक सोलन योगेश दत्त जोशी, उप पुलिस अधीक्षक रमेश शर्मा, तहसीलदार गुरमीत नेगी, मन्दिर के पुजारी तथा कल्याणा वर्ग के नुर्माइंदे उपस्थित रहे।