डीसी शिमला ने कहा सड़कों को खोले जाने कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने जानकारी देते हुएबताया कि शिमला शहर तथा जिला के अन्य स्थानों पर भारी बर्फबारी के कारण अवरुद्ध सड़कों तथा मार्गो को सुचारू करने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जा रहा है ताकि जिला के नागरिकों को इस दौरान किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े। जिला के नागरिकों तथा पर्यटकों से इस दौरान एहतियात बरतने का आग्रह किया ताकि फिसलन भरी सड़कों पर किसी भी प्रकार की अनहोनी का सामना ना करना पड़े।
उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन के पास पर्याप्त मात्रा में मशीनरी तथा लेबर उपलब्ध है जो बर्फबारी को हटाने में लगातार जुटा हुआ है।  जिला में कुल 76 जेसीबी, 9 रोबोट तथा 12 डोजर के साथ पर्याप्त मात्रा में लेबर के माध्यम से बर्फ हटाने का कार्य किया जा रहा है। शिमला शहर में 11 जेसीबी 5 रोबोट के द्वारा बर्फ हटाई जा रही है वही लेबर के माध्यम से सड़कों तथा मार्गो से बर्फ हटाने के साथ-साथ फिसलन भरी सड़कों पर रेत बिछाई जा रही है। शिमला शहर के अतिरिक्त जिला के शिमला ग्रामीण में 11 जेसीबी, 2 डोजर तथा एक रोबोट, थियोग उपमंडल में 7 जेसीबी, 4 डोजर तथा 2 रोबोट, कोटखाई तथा रोहडू उपमंडल में 9 जेसीबी, 2 डोजर तथा एक रोबोट, रामपुर बुशहर उपमंडल में 7 जेसीबी तथा 2 डोजर, चौपाल उपमंडल में 24 जेसीबीतथा कुमारसैन उपमंडल में 7 जेसीबी तथा 2 डोजर के द्वारा युद्ध स्तर पर बर्फ हटाने का कार्य किया जा रहा है।

उपयुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज कुफरी फागू क्षेत्र का दौरा कर सड़कों पर से बर्फ साफ करने की प्रक्रिया को जांचा उन्होंने इस क्षेत्र में आवागमन को सुचारू बनाने के लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए उन्होंने कहा कि शाम को कोहरा जमने की स्थिति में विभाग रेत बिखेरने की प्रक्रिया को सुनिश्चित करें ताकि किसी प्रकार की फिसलन से बचा जा सके और यातायात का सुचारू आवागमन हो सके। उन्होंने अधिकारियों को मशीन तथा लेबर की
तैनाती के भी निर्देश दिए ताकि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए प्रयासरत रहे। इस दौरान उप मंडलाधिकारीअधिकारी ग्रामीण बाबूराम शर्मा बी उनके साथ थे। उल्लेखनीय है कि भारी बर्फबारी के दौरान बडे पैमाने पर जिला में सड़कें अवरुद्ध हैं। उन्होंने जिला भर के अधिकारियों को संपर्क मार्गों के साथ-साथ मुख्य मार्गों की बहाली के लिए भी कड़े निर्देश दिए तथा इसके लिए किए जाने वाले प्रयासों के प्रति गंभीरता से कार्य करने के निर्देश दिए।