डा. राजीव बिंदल बोले, नाहन को जल्‍द मिलेगी सुरंग और धारक्‍यारी बाईपास सुविधा

डा. राजीव बिंदल बोले नाहन को सुरंग और धारक्‍यारी बाईपास सुविधा जल्‍द मिलेगी। जागरण

नाहन शहर में ट्रैफिक की समस्या से निजात दिलाने को लेकर भाजपा सरकार सुरंग और बाईपास दिलाने में एक और कदम आगे बढ़ा चुकी है। नाहन शहर से गुजरने वाले एनएच 907ए की सीधी कनेक्टिविटी सुरंग के बाद एनएच 72 के साथ हो जाएगी।

यह जानकारी नाहन में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं नाहन के विधायक डा. राजीव बिंदल ने दी। उन्होंने कहा कि इस कनेक्टिविटी के लिए डेढ़ किलोमीटर सुरंग टेक्निकल डीपीआर के लिए 17.630 करोड़ रुपये स्वीकृत किए जा चुके हैं। जिस कंपनी को डीपीआर बनाने के लिए निर्देश दिए गए हैं, वह राष्ट्रीय स्तर की कंपनी है। इस डीपीआर के बाद सुरंग के निर्माण की प्रथम अड़चन लगभग दूर हो जाएगी।

डा. राजीव बिंदल ने बताया कि सुरंग की फिजीबिलिटी एस्टीमेट की राशि स्वीकृत हो चुकी है। वहीं सड़कों के सुधार की दिशा की ओर बनोग बिरोजा फैक्ट्री से जाबल बाग बाईपास का अल्टरनेट साबित होगा। उन्होंने बताया कि इस सड़क में 300 मीटर हिस्सा आर्मी का आता है। उन्होंने यह भी स्पष्ट कर दिया कि सरकार और उनके प्रयास इस 300 मीटर हिस्से को लेकर लगातार जारी है। जल्द ही इस समस्या का समाधान भी हो जाएगा।

विधायक ने कहा कि नाहन विधानसभा क्षेत्र में सड़कों के सुधार का कार्य लगातार जारी है। एनएच-07 पर धौलाकुआं और कोलर में फुटपाथ का कार्य भी लगभग पूरा हो चुका है। सड़क पर सुरक्षा को लेकर कुछ ऐसे ब्लैक स्पाट थे, जिन पर लगातार दुर्घटनाओं का क्रम जारी था, उन्हें दुरुस्त किया जा रहा है। नाहन से शिमला की और एनएच 907ए पर पांच बड़े कल्वर्ट लगाने के साथ-साथ सड़क के किनारे की नालियों को भी पक्का कर सड़क को चौड़ा किया गया है। इसके लिए मैटलिंग और टायरिग के लिए करीब 2.38 करोड रुपये खर्च किए जा चुके हैं। यही नहीं, जो रोलिंग क्रैश बैरियर ट्रायल के तौर पर नाहन और ऊना जिला में लगाए जा रहे हैं, उसमें 4.15 करोड रुपये खर्च किए जा रहे हैं। यह रोलिंग क्रैश बैरियर प्रदेश में पहली बार नाहन से कार्मेल स्कूल की और सड़क सुरक्षा को लेकर लगाए जा रहे हैं।