डाॅ. सैजल ने नालागढ़ में संत निरंकारी मिशन द्वारा स्थापित कोविड केयर केन्द्र का किया शुभारम्भ

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मंत्री डाॅ. राजीव सैजल ने आज सोलन जिला के नालागढ़ में संत निरंकारी मिशन सत्संग भवन में कोविड-19 रोगियों के लिए 25 बिस्तर सुविधायुक्त कोविड केयर केन्द्र का शुभारम्भ किया।
कोविड-19 रोगियों के लिए मिशन द्वारा आॅक्सीजन कन्सट्रेटर की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है।

डाॅ. सैजल ने इस अवसर पर कहा कि भारत को अपनी सनातन संस्कृति के लिए जाना जाता है और देश में मानव उत्थान के लिए कार्यरत विभिन्न धार्मिक संस्थाएं संकट के इस काल में भारत की सेवा की परम्परा को आगे बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण काल में संत निरंकारी मिशन द्वारा पीड़ित मानवता की सेवा के लिए विभिन्न स्तरों पर योजनाबद्ध प्रयास किए जा रहे हैं। यह प्रयास कोविड-19 रोगियों को सहायता पहुंचाने के साथ-साथ उनके परिजनों को संबल प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने कल्याणकारी कार्यों में तथा कोविड-19 समय में रोगियों की सुविधा एवं सेवा के लिए मिशन का आभार व्यक्त किया।

आयुष मंत्री ने कहा कि संत निरंकारी मिशन द्वारा 25 बिस्तर सुविधायुक्त कोविड-19 केयर केन्द्र जिला कांगड़ा में भी तैयार किया गया है। प्रदेश के वन मंत्री राकेश पठानिया कल अर्थात 26 मई को इसका विधिवत शुभारम्भ करेंगे।
डाॅ. सैजल ने कहा कि संत निरंकारी मिशन द्वारा आज कोविड-19 रोगियों की सहायता के लिए 500 आॅक्सीमीटर भी प्रदान किए गए हैं। आॅक्सीमीटर कोविड रोगियों के लिए अत्यंत आवश्यक हैं और मिशन का यह सहयोग सभी के लिए लाभदायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि मिशन द्वारा पूर्व में 100 आॅक्सीजन कन्सट्रेटर भी उपलब्ध करवाए गए हैं।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हर स्तर पर कोविड-19 रोगियों को राहत एवं बेहतर चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने के लिए कार्यरत है। प्रदेश में कोविड-19 रोग से बचाव के लिए आवश्यक दवाओं का समुचित भण्डार उपलब्ध है। सभी जिलों में आॅक्सीजन की पर्याप्त मात्रा है।

????????????????????????????????????

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रोगियों की सुविधा के लिए जिला मण्डी एवं जिला कांगड़ा के परौर में आॅक्सीजन सुविधायुक्त 200-200 बिस्तर के मेकशिफ्ट अस्पताल समर्पित किए हैं। सोलन जिला में भी 200 बिस्तर आॅक्सीजन सुविधायुक्त मेकशिफ्ट अस्पताल शीघ्र ही समर्पित कर दिया जाएगा।
डाॅ. सैजल ने सभी से आग्रह किया कि कोविड-19 से बचाव के लिए अपना टीकाकरण करवाएं और सार्वजनिक स्थानों पर नाक से ठोडी तक ढकते हुए मास्क पहनें, सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें और बार-बार अपने हाथ एल्कोहल युक्त सेनिटाइजर से साफ करते रहें।
आयुष मंत्री ने होम आईसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे रोगियों से आग्रह किया कि वर्चुअल माध्यम से कार्यान्वित किए जा रहे आयुष घर द्वार कार्यक्रम का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम योग के माध्यम से रोगियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा रहा है और उनके मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य में सकारात्मक बदलाव का कारण बन रहा है।
इससे पूर्व निरंकारी संस्था के क्षेत्रीय संचालक नरेन्द्र कश्यप ने स्वास्थ्य मंत्री का स्वागत किया और पीड़ित मानवता की सेवा में संस्था के योगदान को स्वीकार करने के लिए प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इन कोविड केयर केन्द्रों में प्रत्येक बिस्तर के साथ आॅक्सीजन कन्सट्रेटर की सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि रोगियों के लिए तीनों समय के भोजन की समुचित व्यवस्था की गई है। उन्होंने संस्था की ओर से आयुष मंत्री को धार्मिक साहित्य की पुस्तकों का सेट भेंट किया।
एपीएमसी सोलन के अध्यक्ष संजीव कश्यप, नालागढ़ के पूर्व विधायक केएल ठाकुर, जिला भाजपा अध्यक्ष आशुतोष वैद्य, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डाॅ. राजन उप्पल, खण्ड चिकित्सा अधिकारी नालागढ़ डाॅ. केडी जस्सल, कोविड-19 नोडल अधिकारी डाॅ. गगन दीप राजहंस सहित अन्य अधिकारी एवं संत निरकांरी संस्था के पदाधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।