जोगिंदरनगर के विधायक प्रकाश राणा ने प्रदेश में होने वाले विधान सभा चुनावों के लिए ठोकी ताल

जोगिंदरनगर के  विधायक प्रकाश राणा ने शनिवार को जोगिंदरनगर विधान सभा चुनाव क्षेत्र की 19 पंचायतों के 170 महिला मंडलों के लिए प्रथम चरण के तहत मच्छयाल में आयोजित महिला सम्मान समारोह की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश में होने वाले विधान सभा चुनावों के लिए ताल ठोक दी है। इस समारोह में क्षेत्र की 19 पंचायतों की 170 महिला मंडलों की हजारों महिलाओं को नारी सम्मान शक्ति सम्मेलन के वेनर तले राणा ने शाल भेंट कर सम्मानित किया। इसके साथ ही उन्होनें आने वाले विधान सभा चुनावों के प्रचार का भी श्री गणेश कर दिया। राणा ने कहा कि 8 मार्च को जोगिंदरनगर में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस बड़ी धूम धाम से मनाया जायेगा ,जिसमें प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी बुलाया जायेगा। इससे पहले महिला मंडलों की विभिन्न खेल प्रतियोगिताऐं भी करवायी गयी। विजय महिला मण्डलों को सम्मानित भी किया गया। इस अवसर पर राणा ने अपने चार साल के कार्यकाल की उपब्लिधीयों का कलेंण्डर भी जारी किया। इस अवसर पर विधायक प्रकाश राणा ने कहा कि महिला शक्ति सम्मान सम्मेलन के दूसरे चरण के तहत 16 फ रवरी को चौतंडा तथा 19 फरवरी को भडोल इलाके की महिलाओं को सम्मानित किया जायेगा। उन्होनें अपने सम्बोधन में कहा कि शास्त्रों में लिखा है की जहां महिलाओं का सम्मान होता है,खुशहाली और प्रगति वहीं होती है।वह इसी मूल मंत्र के तहत कार्य कर रहे है।राणा ने कहा कि पुरूष कभी भी स्त्री का कर्ज नही उतार सकते है। उनकी अपनी सोच है कि शरीर छोडने से पहले जितना हो सके महिलाओं के कल्याण के लिये कार्य कर सकूं। भगवान ने महिला को मां,बहन,बेटी,पत्नि,तथा दुर्गा के रूप बनाया है। आज जोगिन्द्रनगर हल्का देश में शायद पहला हल्का होगा जहां जो हमारी बहन अपना सुहाग खो देती है। उसे हम अपने ट्रस्ट से तब तक पेंशन देते है जब तक उसे सरकारी पेंशन नहीं लग जाती है। राणा ने कहा कि उसके पास जो भी महिला मंडल आया है उसकी उन्होनें मदद की है। सभी विंकलागों को ट्रस्ट से व्हील चेयर बांटी गयी है। वह कभी वोट बैंक की राजनीति नहीं करते कहा कि इससे पहले वोट के आधार पर विकास कार्य होते थे लेकिन उनके दरवाजे सभी के लिये खुले रहते है। 2017 में जो परिवर्तन हुआ उसी समय बदले की भावना का भी खात्मा हो गया। आप वोट दें या नहीं वह आपना काम करने आयें है। न धन कमाने न ही नाम कमाने आये है।
उन्होनें जोगिन्द्रनगर के विकास का श्रेय प्रदेश के मुख्यमंत्री को दिया कहा कि जोगिन्द्रनगर के लोगों ने जो मांगा