जिला स्तरीय बैंकर्स समीक्षा समिति की बैठक आयोजित

चम्बा : 11- सितंबर.. जिला स्तरीय बैंकर्स समीक्षा समिति   बैठक की   अध्यक्षता करते हुएअतिरिक्त जिला दंडाधिकारीअमित मैहरा  ने  कहा कि बैंक सरकारी योजनाओं के अंतर्गत प्रायोजित ऋण प्रस्तावों में शामिल योजनाओं का निपटारा जल्द सुनिश्चित बनाएं  | जिनमें मुख्य रुप से  मुख्य मंत्री स्वावलंबन योजना, ग्रामीण आजीविका मिशन, शहरी आजीविका मिशन, पी एम स्वनिधि योजनाओं से  पात्र लोगों को अधिक से अधिक लाभान्वित करवाएं ।

 अमित मैहरा ने बताया कि विभिन्न  बैंकों ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए वर्षिक ऋण योजना के अंतर्गत जिला ने 29.30 प्रतिशत का   लक्षय हासिल किया है। उन्होने बैंकों की जमा ऋण अनुपात को और अधिक बढ़ाने पर बल देते हुए कहा कि सभी बैंक और विशेष रूप से भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, प्रदेश  सहकारी बैंक इस पर ज़्यादा ध्यान दें और इस बारे शाखा स्तर पर विश्लेषण करें।  

 अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अमित मेहरा ने  बैठक में मौजूद बैंकअधिकारियों को यह भी निर्देश दिए  कि  जिला के सभी किसानों को कृषि क्रेडिट कार्ड के  साथ में जोड़ें और सरकार द्वारा जारी की गई योजनाओं की जानकारी आम आदमी तक पहुंचाएं। उन्होने इस बात पर भी बल दिया कि   कि चम्बा जिला आकांक्षी  जिला में    शामिल किया गया है लिहाजा  इसके मुख्य संकेतक ,प्रधान मंत्री जन धन योजना, प्रधान मंत्री जीवन ज्योति योजना, प्रधान मंत्री सुरक्षा बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, आधार सीडिंग  व किसान क्रेडिट कार्ड पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि इन सभी संकेतकों के नीति आयोग द्वारा दिये गए लक्षय की प्राप्ति सितंबर 2021 तक सुनिश्चित करें।

  अग्रणी जिला प्रबन्धक भूपेन्द्र सिंह ने बैठक का संचालन किया। यह त्रैमासिक बैठक वित्तीय वर्ष 2021-22, जून 2021 की समीक्षा के  लिए आयोजित की गई ।  बैठक में    मौजूद   भारत राज प्रबन्धक भारतीय रिज़र्व बैंक, साहिल स्वांगला , जिला विकास प्रबन्धक नाबार्ड , चंद्रभूषण महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र चम्बा,  अनुराग जोशी क्षेत्रीय प्रबन्धक हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक व इसके अतिरिक्त   समस्त बैंक और अन्य जिला अधिकारी भी मौजूद रहे।