जिला अस्पताल में मेनीफोल्ड आॅक्सीजन सिलेंडर के माध्यम से 200 बिस्तरों को निरंतर मिलेगी आॅक्सीजन की सप्लाई

बिलासपुर 27 मई –

उपायुक्त रोहित जम्वाल ने बताया कि जिला बिलासपुर में कोरोना महामारी से लड़ने तथा कोरोना मरीजों की सुविधा के लिए आॅक्सीजन युक्त बिस्तरों की संख्या के बढ़ाने पर विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने बताया कि जिला बिलासपुर में जिला अस्पताल में मेनीफोल्ड आॅक्सीजन सिलेंडर के माध्यम से 200 बिस्तरों को निरंतर आॅक्सीजन की सप्लाई मिलेगी। प्रदेश सरकार से इसकी स्वीकृति मिल गई है, शीघ्र ही इसे स्थापित किया जा रहा है ताकि कोरोना मरीजो को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।


उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान सरकार के साथ-साथ विभिन्न संस्थाएं भी रोगियों की मदद के लिए आगे आ रही है। उन्होंने बताया कि संकट की इस घड़ी में जहां स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी मरीजों की देखभाल के लिए दिन-रात एक कर रहे है, वहीं स्वयं सेवी/सामाजिक संस्थाएं भी पूरी निष्ठा के साथ लोगों की सहायता कर रहे है। उन्होंने बताया कि इसी कड़ी में ए.सी.सी. बरमाणा ने भी संकट की इस घड़ी में सहायता के लिए हाथ आगे बढ़ाएं है। उन्होंने बताया कि एसीसी बरमाणा द्वारा जिला अस्पताल के लिए सीएसआर गतिविधि के तहत 40 बिस्तरों के लिए पीएसए आॅक्सीजन प्लांट की व्यवस्था की है। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही इसे स्थापित किया जा रहा है ताकि लोगों को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जा सके।
उन्होंने बताया कि घुमारवीं में भी पीएसए आॅक्सीजन प्लांट स्थापित किया जा रहा है। पीएसए आॅक्सीजन प्लांट के माध्यम से कोरोना संक्रमित उपचाराधीन लोगों को आॅक्सीजन की कमी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
उन्होंने कहा कि कोरोना पीड़ितों की देखभाल तथा निगरानी के लिए प्रदेश सरकार द्वारा होम आईसोलेशन किट भी तैयार की गई है जिसे स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से होम आईसोलेशन में रह रहे लोगों के घरों तक पहंुचाया जा रहा है ताकि वे घर में रहकर स्वस्थ तथा सुरक्षित रह सके।
उन्होंने बताया कि होम आईसोलेशन किट में चयवनप्राश, थर्मामीटर, आयुष काढ़ा, विटामिन सी, केल्शियम टेबलेट, ज़ीक टेबलेट, मल्टी विटामिन तथा आवश्यक सैनेटाईजर है जिन्हें कोरोना संक्रमित व्यक्ति प्रयोग कर अपने स्वास्थ्य को स्वस्थ और सुरक्षित रख सकते है।
उन्होंने बताया कि किट में होम आईसोलेशन में रह रहे मरीजों के मार्गदर्शन के लिए होम आईसोलेशन की स्वयं सहायता पुस्तिका भी है। इस पुस्तिका में कोरोना संक्रमित व्यक्ति को होम आईसोलेशन के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए है जिसमें बताया गया है कि मानसिक तनाव को कैसे दूर करें, स्वास्थ्य की निगरानी कैसे रखे, देखभालकर्ता होम आईसोलेशन पर मरीज की देखभाल कैसे करें। पल्स आॅक्सीमीटर का उपयोग करने के तरीके और जरूरी पोषण चार्ट, रिकवरी प्रक्रिया और परीक्षण चार्ट तथा ई-संजीवनी ओपीडी उपयोग के बारे आवश्यक जानकारी प्रदान की गई है।
उन्होंने जिला बिलासपुर की जनता आग्रह किया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों जिसमें मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना तथा बार-बार हाथ धोना, बिना बजह घर से बाहर न निकलने के नियमों की अनुपालना करें ताकि कोरोना की इस चेन को तोड़ा जा सके।