जाली दस्तावेजों से 80 लाख का लोन, कांगड़ा बैंक के पूर्व ब्रांच मैनेजर पर लगे आरोप

कांगड़ा बैंक के पूर्व ब्रांच मैनेजर पर एक ही परिवार के 4 सदस्यों के नाम जाली दस्तावेज तैयार करके 20-20 लाख रुपए के लोन के नाम पर गबन के आरोप सही पाए गए हैं। स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो ने स्थानीय थाना में आरोपी ब्रांच मैनेजर कमल देव भोगल उनके दो सहयोगियों संदीप कुमार व दिनेश डेविड के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर किया है।

    

बता दें कि कांगड़ा बैंक के ही सहायक महाप्रबंधक विनोद कुमार ने अपने ही बैंक ब्रांच के मैनेजर कमल देव भोगल और उनके दो सहयोगियों संदीप कुमार और दिनेश डेविड पर आरोप लगाए थे कि उन्होंने कांगड़ा जिला की फतेहपुर तहसील के तहत पड़ते धमेटा निवासी एक परिवार के चार सदस्यों के नाम पर जाली दस्तावेज तैयार कर 20-20 लाखों रुपए के चार लोन मंजूर किए और बाद में उस राशि को गबन भी कर लिया।

         

मामला सामने आने के बाद स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो ने आरोपियों के खिलाफ छानबीन शुरू की थी। जांच में सभी आरोपियों पर लगे आरोप सही साबित पाए गए, जिसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया।मामले की पुष्टि स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो के एसपी बलवीर ठाकुर ने की है।