जलशक्ति मंत्री ने शेरवा चंगर में किया ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति भवन का शिलान्यास

जलशक्ति, राजस्व, उद्यान और सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा है कि जल जीवन मिशन में लगातार तीसरे वर्ष देश भर में प्रथम स्थान पर आए हिमाचल प्रदेश को वित वर्ष 2021-22 के लिए इंसेटिव के रूप में 750 करोड़ की धनराशि मिली है। इससे पहले वर्ष 2020-21 में भी प्रदेश को 222 करोड़ और वर्ष 2019-20 में 57 करोड़ रुपये की राशि मिली थी। महेंद्र सिंह ठाकुर बुधवार को झंडूता विधानसभा क्षेत्र के गांव शेरवा चंगर में लगभग एक करोड़ 4 लाख रुपये की लागत से बनने वाले जलशक्ति विभाग के ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति प्रशिक्षण केंद्र के भवन का शिलान्यास करने के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे।
  उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों की तकदीर बदलने के लिए अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना लाए थे और नरेंद्र मोदी ने इन्हीं क्षेत्रों की पेयजल समस्या के स्थायी समाधान के लिए 15 अगस्त 2019 को लाल किले से जल जीवन मिशन की घोषणा करके इसके लिए 3 लाख 60 हजार करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया था। महेंद्र सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में हिमाचल प्रदेश जल जीवन मिशन में लगातार टॉप पर चल रहा है। इसके लिए जलशक्ति विभाग के इंजीनियर, कर्मचारी, काॅन्ट्रैक्टर्स और समस्त प्रदेशवासी  बधाई के पात्र हैं।  
  जलशक्ति मंत्री ने बताया कि जल जीवन मिशन से छूटे क्षेत्रों के लिए एडीबी, एनडीबी और नाबार्ड के माध्यम से भी करोड़ों की योजनाएं मंजूर की गई हैं। इसमें बिलासपुर शहर की सीवरेज योजना के अलावा झंडूता और अन्य विधानसभा क्षेत्रों के पानी की कमी वाले क्षेत्रों की योजनाएं भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि सीर खडड के चैनलाइजेशन के लिए भी करोड़ों की योजना केंद्र को भेजी गई है। इस अवसर पर भाजपा के स्थापना दिवस की बधाई देते हुए महेंद्र सिंह ने कहा कि समर्पित नेताओं और कार्यकर्ताओं के त्याग और तपस्या के कारण आज यह पार्टी विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक संगठन बन चुका है। हिमाचल प्रदेश के लिए यह गौरव की बात है कि इस संगठन का नेतृत्व जगत प्रकाश नड्डा के हाथों में है। इस अवसर उन्होंने जलशक्ति विभाग के अधिकारियों को सेरवा चंगर में ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति प्रशिक्षण केंद्र के भवन का कार्य निर्धारित अवधि में पूरा करने के निर्देश भी दिए।
   इससे पहले जलशक्ति मंत्री का स्वागत करते हुए विधायक जीत राम कटवाल ने कहा कि सवा चार वर्षों के दौरान झंडूता विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपये के विकास कार्य करवाए गए हैं। जलशक्ति विभाग के माध्यम से ही झंडूता क्षेत्र को अभी तक लगभग 240 करोड़ रुपये का बजट दिया जा चुका है। क्षेत्र में लगभग एक करोड़ 70 लाख लीटर की क्षमता वाली पेयजल योजनाओं के कार्य युद्ध स्तर पर करवाए जा रहे हैं। अब कोटधार क्षेत्र सहित सभी इलाकों में पेयजल की कोई भी समस्या नहीं रहेगी। काहरवीं क्षेत्र के लिए भी लगभग 20 करोड़ रुपये की पेयजल योजना का कार्य जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।
  इस अवसर पर मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल ने भी जलशक्ति मंत्री का स्वागत किया तथा प्रदेश और केंद्र सरकार की उपलब्धियों की जानकारी दी। भाजपा मंडल अध्यक्ष मोहेंद्र सिंह चंदेल ने भी अपने विचार रखे।
  कार्यक्रम के दौरान भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी हरदयाल सिंह चंदेल, जिला परिषद सदस्य शैलजा शर्मा, बीडीसी अध्यक्ष अभिषेक चंदेल, एसडीएम नरेश वर्मा, जलशक्ति विभाग के अधिशाषी अभियंता रत्न देव, भाजपा के पदाधिकारी, पंचायतीराज संस्थाओं के पदाधिकारी और अन्य गणमान्य लोग भी उपस्थित थे।