घुमारवीं कालेज में बनाया जाएगा पी जी ब्लाक- गर्ग

बिलासपुर :- स्वामी विवेकानंद राजकीय महाविद्यालय घुमारवीं का वार्षिक पुरस्कार वितरण समारोह शुक्रवार को बड़ी धूमधाम से मनाया गया जिसमें खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिद्र गर्ग ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की। कार्यक्रम का प्रारंभ सर्वप्रथम मां सरस्वती के  सम्मुख दीप प्रज्वलन से शुरू हुआ।

 समारोह में महाविद्यालय के प्राचार्य प्रौ० राम कृष्ण ने वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत करके कॉलेज की शैक्षणिक खेल एवं अन्य सांस्कृतिक गतिविधियों में कॉलेज की उपलब्धियों को गिनाया।

 इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में विद्यार्थियों से उच्च संस्कार ग्रहण करने का आह्वान करते हुए कहा जीवन में एक लक्ष्य निर्धारित कर प्राध्यापकों के मार्गदर्शन में कठिन मेहनत कर अपने लक्ष्य को प्राप्त करें।  श्री गर्ग ने कहा कि आज का छात्र आज का ही नागरिक है और युवाओं को विश्व में हो रही घटनाओं पर ध्यान देने की आवश्यकता है आज युवा पीढ़ी के सामने जो चुनौतियां हैं उनका दृढ़ता से सामना करने हेतु दक्ष होने की आवश्यकता है। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि पढ़ाई के साथ-साथ सामाजिक कार्यों में भी बढ़-चढ़कर भाग लें। 

उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में सरकार लगातार प्रयास कर रही है कि विद्यार्थियों को बेहतर वातावरण मिले, अच्छे क्लासरूम, अच्छे टीचर,अच्छे भवन मिले शिक्षा के परिसरों को और मजबूत करने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

 उन्होंने कहा कि  सरकार द्वारा प्रदेश के कालेजों की आधारभूत संरचना को सुदृढ़ करने पर विशेष बल दे रही है। उन्होंने कहा कि घुमारवीं कालेज में स्नातकोत्तर की कक्षाएं शुरू करवाई गई है ताकि बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए दूर ना जाना पड़े। उन्होंने कहा कि घुमारवीं कालेज में बच्चों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने घण्डालवीं में एक नया कालेज स्टाफ सहित स्वीकृत किया है जिसके लिए सरकार ने 05 करोड  की राशि स्वीकृत की है जल्द ही घण्डालवीं कालेज का शुभारंभ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि संस्कृत कॉलेज ड़गार का भी सरकार ने अधिग्रहण कर लिया है और अब घुमारवीं में तीन कालेज हो गए  हैं । उन्होंने कहा कि घुमारवीं कालेज की आधारभूत संरचना को सुदृढ़ करने पर सरकार द्वारा करोड़ों रुपए खर्च किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि महाविद्यालय का सभागार 4 करोड़ 30 लाख बजट के साथ निर्माणाधीन है। 88,68,800 बजट के साथ पुस्तकालय का निर्माण किया गया है। 1,33,86,000 बजट के साथ महाविद्यालय का ई  पुस्तकालय निर्माणाधीन है। 69,89,495 बजट के साथ कॉमर्स ब्लॉक का निर्माण महाविद्यालय में किया है। महाविद्यालय में विज्ञान संकाय-भवन 6,50,44,000 बजट के साथ निर्माणाधीन है। महाविद्यालय के खेल मैदान का कार्य 67,48,000 बजट के साथ प्रगति पथ पर है, ऑडियो टोरियम का कार्य भी प्रगति पर है और खेल मैदान भी युद्ध स्तर पर तैयार किया जा रहा है। एक करोड़ रुपये की अनुदान राशि महाविद्यालय को रूसा के तहत प्राप्त हुई है।  उन्होंने कहा कि घुमारवीं कालेज में पी.जी. ब्लाक का निर्माण भी किया जाएगा। उन्होंने कालेज के वर्तमान दोनों ब्लाक के बीच के रास्ते के पक्का करने व रिक्त पदों को जल्द ही भरने का आश्वासन दिया।

महाविद्यालय की संगीत विभाग के प्रोफेसर सुरेश शर्मा की अगुवाई में बी.सी.ए की छात्राओं द्वारा समूह नृत्य, बी.बी.ए के विधार्थियों द्वारा भांगड़ा, बी वाँक के विधार्थियों द्वारा हिमाचली नाटी  सहित शास्त्रीय संगीत प्रस्तुत कर ने बेहद मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए खूब वाहवाही लूटी।

कार्यक्रम में गत वर्ष में शैक्षणिक गतिविधियों में बहुत अच्छा प्रदर्शन करने पर 242  मेधावी बच्चों  सहित कुल 501 विधार्थियों को विभिन्न गतिविधियों में उत्कृष्ट स्थान ग्रहण करने पर पुरस्कृत किया गया। वर्ष 2021-22 की शैक्षणिक गतिविधियों में कला संकाय में अनामिका गौतम प्रथम, मीना दूतीय, कॉमर्स संकाय से अविनाश गौतम प्रथम दीक्षा द्वितीय स्थान पर रही। विज्ञान संकाय में अंकित प्रथम, अंकिता ने द्वितीय स्थान प्र रही। बीसीए में भास्कर प्रथम, विपुल द्वितीय सहित 8 विधार्थियों ने पुरूस्कार प्राप्त किए। बीसीए में विशाल प्रथम, श्रेया द्वितीय स्थान पर रही। एम.ए इंग्लिश में मिशा तथा जूलोजी में नाजिया खातून  प्रथम स्थान पर रही। एम.एस.सी मैथ में शिवानी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।

महाविद्यालय के प्रोफेसर सुरेश शर्मा, प्रोफेसर डॉ रिप्पन, प्रोफेसर डिंपल चौहान ने मंच संचालक की भूमिका निभाई और प्रो० टी.आर सिंह ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।