घर से जॉगिंग के लिए निकली युवती का शव झील से बरामद

सुबह घर से जागिंग के लिए निकली एक युवती का शव पुलिस ने संदिग्ध परिस्थितियों में मसूरी झील से बरामद किया है। एक माह पूर्व ही युवती नौकरी की तलाश में श्रीनगर गढ़वाल से देहरादून आई थी, यहां वह अपनी बहन के साथ आईटी पार्क क्षेत्र में किराये के कमरे में रह रही थी। बार्लोगंज पुलिस चौकी प्रभारी विनय शर्मा ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे उन्हें मसूरी-देहरादून हाईवे स्थित मसूरी झील में युवती के डूबने की सूचना मिली। पुलिस मौके पर पहुंची और युवती को बाहर निकाला तो वह दम तोड़ चुकी थी।

उसके पास से एक फोन भी बरामद हुआ। फोन पूरी तरह से भीग चुका था। उन्होंने सिम निकाला और अपने फोन पर लगाया। कुछ देर बाद उसमें सिमरन नाम की युवती का फोन आया। तब युवती के शव की शिनाख्त सोनाली उर्फ काजल निवासी श्रीकोट, श्रीनगर गढ़वाल के रूप में हुई।

सिमरन ने पुलिस को बताया कि वह आइटी पार्क क्षेत्र में किराये के कमरे में रहती है और एक पार्लर में नौकरी करती है। बताया कि सोनाली उसकी बहन है। सुबह जब वह सो रही थी तो सोनाली जागिंग पर जाने की बात कहकर कमरे से निकली थी। बताया कि उनके पिता दिल्ली में नौकरी करते हैं, जबकि मां श्रीनगर में रहती हैं।

वहीं मृतका की बहन ने बताया कि सोनाली मानसिक रूप से पीड़ित थी और सुबह बिना बताए घर से निकल गई थी। उन्होंने कहा कि वह मसूरी झील कैसे पहुंची उनको नहीं मालूम। पुलिस ने बताया कि युवती सुबह जब झील की ओर जा रही थी तो वहां मौजूद चौकीदार ने उसे मना किया था। इसके बाद वह अपने काम में लग गया।

इसके बाद वह अपने काम में लग गया। आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में भी युवती झील की ओर जाती हुए दिखाई दे रही है। पुलिस के अनुसार, मृतका के पिता को सूचना दी गई है।

उनके आने पर शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। बताया कि युवती देहरादून से मसूरी झील तक कैसे पहुंची और किस उद्देश्य के साथ यहां आई थी, इसको लेकर जांच की जा रही है।