गिरिपार क्षेत्र में धूमधाम से मनाया शनोल पर्व ।

राजगढ़ – गिरिपार के राजगढ़ क्षेत्र में श्रावण मास में बनाए जाने वाला शनोल त्यौहार बीते कल बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया । लोगों द्वारा अपने घरों में इस पावन पर्व पर विशेष व्यंजन के रूप में मीठे और नमकीन सीड़कू बनाए गए और अपने भाई बंधुओं में बांटे गए । बता दें कि श्रावण मास के 20 प्रविष्ठे का दिन गिरिपार क्षेत्र में हर वर्ष शनोल त्यौहार के रूप में मनाया जाता है और त्यौहार को कालांतर से मनाते आ रहे हैं । इस पर्व पर अनेक गांव में मेले का भी आयोजन किया जाता है । राजगढ़ के नेई नेटी में हर वर्ष शनोल के अवसर पर मेले का अतीत से आयोजन किया जाता रहा है परंतु कोरोना संकट के चलते बीते दो वर्षों से नहीं मनाया गया । इस बार गिरिपार क्षेत्र में इस त्यौहार को घर पर ही मनाया गया । रिटब गांव की राधा ठाकुर ने बताया कि शनोल उत्सव पर पारंपरिक व्यंजन बनाने का विशेष महत्व होता है लोग इस दिन मीठे और नमकीन सीड़कू बनाते हैं जिसे घी और दही के साथ खाया जाता है । इनका कहना है कि क्षेत्र के आराध्य देव शिरगुल के नाम पर शनोल मनाने की परंपरा है और इस दिन हाब्बन के समीप शिवपुर स्थित शिरगुल के प्राचीन मंदिर में विशेष पूजा की जाती है जिसमें पूरे क्षेत्र के लोग देवता को घी और आटा इत्यादि को भेंट स्वरूप अर्पित करते हैं ।