खेल गतिविधियों के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी किया गया आयोजन ….

चंबा ,26 मार्च 

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में मुख्य सचेतक विक्रम सिंह जरयाल ने कहा है कि  ज़िला के उच्च गुणवत्ता युक्त कृषि  उत्पाद विशेषकर युवाओं में  आर्थिक स्वावलंबन की दिशा में एक बेहतर अवसर उपलब्ध करवा  सकते हैं । विक्रम सिंह जरयाल आज चंबा के ऐतिहासिक चौहान नंबर 2 में आयोजित  ईट राइट मेले का शुभारंभ करने के पश्चात  जनसभा को संबोधित करते हुए बोल रहे थे । उन्होंने कहा कि ज़िला में अधिकांश लोग कृषि एवं बागवानी आधारित गतिविधियों के साथ जुड़े हुए हैं । उच्च गुणवत्ता युक्त स्थानीय कृषि उत्पादों के  व्यवसाय से  बेहतर आय अर्जित  करने वाले स्वयं सहायता समूह और विभिन्न संस्थाओं के कार्यों से  विक्रम सिंह  जरियाल ने विशेषकर युवाओं को प्रेरणा लेने का आह्वान  किया।

उन्होंने यह भी कहा कि ज़िला में  कई स्वयं सहायता समूह और संस्थाएं यहां के कृषि उत्पादों  को प्रदेश से बाहर भेज कर अपनी आर्थिकी को सशक्त बना रहे हैं । यह न केवल स्वावलंबन की दिशा में बेहतर प्रयास है अपितु इससे युवावर्ग को प्रेरणा भी अवश्य लेनी चाहिए । विक्रम सिंह  जरयाल ने ज़िला प्रशासन  की इस पहल को गुड गवर्नेंस का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण बताते हुए कहा कि पोस्टिक खानपान कैसा होना चाहिए ये यहां  ईट राइट मेले में  बहुत बेहतर तरीके से प्रदर्शित किया गया है । उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि लोग पौष्टिक  आहार लेने के प्रति आवश्य सगज रहेंगे। ताकि  पूर्णता स्वस्थ रह सकें ।

मुख्य सचेतक ने जिला प्रशासन और संबंधित विभागों के अधिकारियों से स्थानीय कला एवं लोक संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन को लेकर भी आवश्यक कदम उठाने को कहा । चंबा को आकांक्षी ज़िला से अग्रिम ज़िला में लाने को लेकर भी उन्होंने लोगों से संकल्प लेने का आह्वान किया । इससे पहले उन्होंने विभिन्न विभागों, संस्थाओं और स्वयं सहायता समूह के माध्यम से स्थापित की गई प्रदर्शनी   इकाइयों (स्टॉल )का अवलोकन किया । उन्होंने इस दौरान जस्ट चंबा ब्रांड के नाम से   तैयार किए गए ग्रामीण आजीविका पर  आधारित स्थानीय उत्पादों   को भी लांच किया ।

इस दौरान अपने संबोधन में स्थानीय विधायक पवन नैय्यर ने कहा कि वर्तमान परिपेक्ष्य में लोगों के गलत खानपान की आदतों के चलते  यह भी देखा गया है कि लोगों में उच्च रक्तचाप उच्च रक्तचाप, मधुमेह , हृदय रोग के मामलों में  तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। उन्होंने ये भी  कहा कि पोष्टिक भोजन से लोग लोग अपने आप को पूर्णता स्वस्थ रख सकते हैं । उन्होंने मेले के दौरान विभिन्न विभागों , स्वयंसेवी संस्थाओं, सेल्फ हेल्प ग्रुप द्वारा प्रदर्शित किए गए उत्पादों और कार्यक्रम के दौरान आयोजित की गई खेल गतिविधियों के सफल आयोजन के लिए जिला प्रशासन को बधाई भी दी ।

इससे पहले उपायुक्त डीसी राणा ने मुख्य सचेतक और स्थानीय विधायक का स्वागत करते हुए कार्यक्रम से संबंधित जानकारियां प्रदान की । उन्होंने यह भी कहा कि  मेले के आयोजन से लोगों को पौष्टिक भोजन  की उपयोगिता के बारे में जानकारी आवश्य बढ़ेगी । उन्होंने कहा कि यहां की विख्यात कला संस्कृति और  पारंपरिक खानपान  ज़िला के अलग अलग क्षेत्रों का प्रदर्शित करते है । उन्होंने यह भी कहा कि मेले के दौरान अपने उत्पाद प्रदर्शित करने वाले विभिन्न स्वयं सहायता समूह, संस्थाओं को अपने  पारंपरिक कृषि उत्पादों के प्रचार-प्रसार के लिए भी  एक बेहतर  अवसर उपलब्ध हुआ है ।

कार्यक्रम में मुख्य चिकित्सा अधिकारी  डॉ कपिल शर्मा ने मुख्य सचेतक विक्रम सिंह जरयाल, स्थानीय विधायक पवन नैय्यर, अध्यक्ष नगर परिषद नीलम नैय्यर को शाल टोपी और चंबा थाल  भेंट कर सम्मानित भी किया । इस दौरान बेबी शो, योगाभ्यास , रस्साकशी प्रतियोगिता ,म्यूजिक चेयर रेस , शेफ कंपीटीशन , मिनी मैराथन, साइकिल रेस, तंबोला व सांस्कृतिक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए ।  इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव,  सहायक आयुक्त रामप्रसाद शर्मा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जालम, आयुष देवेंद्र गर्ग, उप निदेशक उच्च शिक्षा प्यार सिंह चढ़ाक , जिला भाषा अधिकारी तूकेश शर्मा, उपाध्यक्ष नगर परिषद सीमा कश्यप, जिला भाजपा अध्यक्ष जसवीर नागपाल, वरिष्ठ  उपाध्यक्ष भाजपा  दिनेश शर्मा  विभिन्न विभागों के अधिकारी, स्थानीय गणमान्य लोग उपस्थित रहे ।