क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में क्लबफूट जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में क्लबफूट जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन -क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में क्लबफूट जागरूकता के सम्बन्ध में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसकी अध्यक्षता चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. सतीश द्वारा की गई। इस कार्यक्रम में हड्डी विभाग के डाॅ. सुमित वर्मा मुख्य रूप से शामिल हुए।
चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. सतीश ने बताया कि यह एक जन्मजात बीमारी है जिसका इलाज निःशुल्क क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में किया जाता है। क्लबफूट क्लीनिक सप्ताह में हर शुक्रवार को आयोजित किया जाता है। उन्होंने कहा कि मेरीकलफीट इंडिया एक गैर सरकारी संगठन है जो क्लबफूट की समस्या के समाधान के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के साथ साझेदारी में काम कर रहा है।
उन्होंने बताया कि क्लबफूट से प्रभावित बच्चों का पोन्सेटी विधि द्वारा इलाज किया जाता है जिसमें कास्टिंग, टेनोटोमी और ब्रसेस के चरणों से गुजरते है। यह महत्वपूर्ण है कि उन्हें जल्दी पहचाना जाए और इलाज के लिए लाया जाए।
उन्होंने बताया कि मेरीकल फीट के सहायक (चतवहतंउउम मगमबनजपअम) उपचार सामग्री के साथ जानकारी भी प्रदान करते है।