केंद्रीय मंत्री के बयान से हिमाचल में विद्युत व्यवस्था के स्थिति हुई जगजाहिर : कांग्रेस

विधान सभा क्षेत्र पांवटा साहिब से कांग्रेस नेता किरनेश जंग, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष अश्वनी शर्मा, जिला कांग्रेस महासचिव हरप्रीत सिंह रतन, प्रदीप और मोहब्बत ने यहां जारी एक संयुक्त बयान में कहा कि पांवटा साहिब बिजली के कटों से परेशान है।

ऊर्जा मंत्री अपने अधिकारियों एवं बीजेपी नेताओं से परेशान हैं। हिमाचल प्रदेश में पूरे भारतवर्ष में सबसे ज्यादा बिजली के कट लगते हैं।

उन्होंने कहा कि संसद में यह उत्तर भाजपा के केंद्रीय मंत्री द्वारा दिया गया है जिससे सिद्ध हो गया है कि बिजली विभाग का कितना बुरा हाल है।

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पांवटा साहिब हिमाचल में बिजली के कटों के बारे में बहुत बार आवाज उठा चुकी है। किंतु ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी के कान पर जूं नहीं रेंगती। वे कोई ना कोई बहाना बनाते रहते हैं। लेकिन पांवटा साहिब के विकास के लिए वह कुछ नहीं कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री यहां पांवटा साहिब के प्रवास पर आए थे यहां आकर वह शिलाई मंडल के लोगों से वार्ता करके उनको दोबारा आने का आश्वासन देकर चले गए। पांवटा साहिब के बारे में ना कोई घोषणा की और ना ही जो कांग्रेस के सरकार द्वारा कार्य किए गए जो पूर्ण हो चुके हैं उनका उद्घाटन किया।

कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि केवल दोबारा आने का आश्वासन देकर चले गए इसी प्रकार अब सुखराम चौधरी पांवटा साहिब से रेलवे को जोड़ने के लिए झूठी घोषणाएं कर रहे हैं। जबकि वास्तविकता इससे अलग है।

उन्होंने कहा कि आप रेलवे तो छोड़ो पांवटा साहिब की सड़कों को ही ठीक कर दो नेशनल हाईवे का बुरा हाल है सूरजपुर से यमुना पुल तक जो एनएच का काम हुआ है उसमें गुणवत्ता का कोई ख्याल नहीं रखा गया।

सड़क को सांप की तरह बना दिया गया है किसी प्रकार की कोई भी नेशनल हाईवे की जो गाइडलाइन से उसको फॉलो नहीं किया गया। इसी प्रकार बद्रीपुर से राजवन रोड का बुरा हाल है। जिसमें आम आदमी को चलना भी मुश्किल हो गया है।

लेकिन मंत्री और भाजपा नेताओं को यह सब दिखाई नहीं देता इसी प्रकार बद्रीपुर चौक की रेड लाइट पिछले काफी समय से खराब पड़ी है। उसको ठीक कराने के लिए कोई प्रयत्न नहीं किया जा रहा है। जिससे वहां पर हर समय जाम की स्थिति रहती है।