उपायुक्त की अध्यक्षता में नलवाड़ी मेले के प्रबंधों बारे समीक्षा बैठक आयोजित

बिलासपुर 2 मार्च – राज्य स्तरीय नलवाड़ी मेला 17 से 23 मार्च तक जिला बिलासपुर के लूहणू मैदान में कोविड-19 के प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए पूरे हर्षोल्लास से मनाया जाएगा। आज बचत भवन में उपायुक्त पंकज राय की अध्यक्षता में मेले के प्रबंधों बारे समीक्षा बैठक आयोजित की गई जिसमें सभी उप-समितियों व उनके संयोजकों ने भाग लिया।
बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपायुक्त ने कहा कि ऐतिहासिक नलवाडी मेले की मौलिकता और पारंपरिकता को बेहतर तरीके से बनाने रखने के लिए व्यापक प्रबंध किए जाएगें। उन्होंने नलवाड़ी मेले के प्रबंधों के लिए बनाई गई समस्त उप-समितियों द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की।
उन्होंने कहा कि मेले के दौरान मुख्यातिथि द्वारा लक्ष्मी नारायण मंदिर बिलासपुर में पूजा अर्चना की जाएगी तथा पारंपरिक रूप से मेला मैदान तक शोभा यात्रा निकाली जाएगी तथा मेला मैदान में बैल पूजा की जाएगी।
उन्होने कहा कि मेले के दौरान सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों को प्रभावी ढंग से प्रचारित करने के लिए विभिन्न विभागों द्वारा प्रदर्शनियां लगाई जाएगी जिनके माध्यम से लोगों को जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मेले में जिला की पुरातन संस्कृति से लोगों को रूबरू करवाने के उद्देश्य से कहलूर कॉर्नर स्थापित किया जाएगा जहां बिलासपुर के ऐतिहासिक फोटोग्राफ, जिला के वीर सपूतों, स्वतंत्रता सेनानियों के पराक्रम की कहानियों, बिलासपुर की विकास गाथा, दुर्लभ फोटोग्राफ, लोक वाद्य यंत्र, पारंपरिक परिधान, प्राचीन आभूषणों, मिट्टी के पुराने बर्तन, सिक्के, मूर्तियों व अन्य प्राचीन वस्तुओं को प्रदर्शित किया जाएगा।
बैठक में नलवाड़ी मेले में राज्य स्तरीय मैराथन, वाॅलीवाल, बैडमिंटन, कबड्डी व कुश्तियों आदि की प्रतियोगिताओं के आयोजन बारे भी चर्चा की गई।
इस अवसर पर स्मारिका प्रकाशन, पशु प्रदर्शनियां, कलाकारों के चयन, मेले के दौरान यातायात, विद्युत व पेयजल की व्यवस्था आदि अन्य मुद्दों पर व्यापक रूप से चर्चा की गई। उन्हांेने कार्यकारी अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि मेले में सफाई की अच्छी व्यवस्था करने के लिए समय रहते उचित प्रबंध करें।  
बैठक में पुलिस अधीक्षक एस आर राणा, अतिरिक्त उपायुक्त तोरूल रवीश, सहायक आयुक्त योगराज धीमान, उपमण्ड़लाधिकारी (ना.) सुभाष गौतम, लोक निर्माण विभाग अधिशाषी अभियंता राजेन्द्र सिंह जुबलानी, नगर परिषद कार्यकारी अधिकारी उर्वर्शी वालिया, जिला भाषा अधिकारी रेवती सैनी, प्रशासनिक सेवा परिवीक्षाधीन ओशिन शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारियों तथा विभिन्न उप समितियों के संयोजकों ने भी भाग लिया।