आंदोलन कर रहे कर्मियों को CM की दो टूक, ‘आंदोलन से नहीं मानेंगे मांगें’

हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में चुनाव होने हैं। चुनावी साल के चलते चाहे कर्मचारी वर्ग हो या कोई संगठन हर कोई अपनी मांगे मनवाने के लिए सरकार पर दबाव बना रहा है। वहीं, प्रदेश के कर्मचारी भी आए दिन सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रहे हैं और अपनी मांगें मनवाने के लिए सरकार पर दबाव बना रहे हैं। लेकिन अब मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस सबके खिलाफ सख्त रुख अपनाने का मन बना लिया है।

शिमला में मीडिया के सवाल के जबाव में मुख्यमंत्री ने सख्त लहजे में कहा कि कर्मचारियों की मांगों को लेकर सरकार कृतसंकल्प है। कर्मचारी यदि सहजता से अपनी मांगे रखेंगे तो उनकी बात मानी जाएगी। यदि कर्मचारी इस तरह से सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे तो उनकी मांगों को नहीं माना जाएगा। साथ ही ऐसे कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।