अधिकारी सांसद आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत स्वीकृत सभी कार्यों को शीघ्र अति शीघ्र करें पूरा – पंकज राय बचन भवन में आयोजित दिशा, प्रशासकीय दक्षता व कैच द रेन की समीक्षा बैठक आयोजित

बिलासपुर – जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक में विभिन्न विभागों के माध्यम से चलाए जा रहे कार्यक्रमों और योजनाओं की समीक्षा करते हुए उपायुक्त पंकज राय ने कहा कि सांसद आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत स्वीकृत सभी कार्यों को शीघ्र अति शीघ्र पूरा करें और इसकी मासिक आधार पर प्रगति रिपोर्ट भेजना भी सुनिश्चित करें।
उन्होंने कृषि विभाग को निर्देश दिए कि वे कृषक उत्पादक संगठनों के गठन पर व उनके फायदों तथा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करें तथा ग्राम सभा की बैठकों में भी प्रचार साम्रगी का वितरण करें।
परिवहन, पुलिस व लोेक निर्माण विभाग सड़क दुर्घटनाओं पर नियंत्रण के लिए उठाए कदम
उन्होंने बैठक में यह भी निर्देश दिए कि परिवहन, पुलिस व लोेक निर्माण विभाग सड़क सुरक्षा अभियान के केन्द्र बिन्दुओं जैसे ओवर लोडिंग, वाहन चालन गुणवत्ता, अंधें मोड़ इत्यादि मिलकर चिन्ह्ति करें और उनके निराकरण के लिए मिलकर कार्य करें ताकि सड़क दुर्घटनाओं पर नियंत्रण पाया जा सकें।

मुख्यमंत्री सेवा संकल्प योजना की लम्बित शिकायतों का प्राथमिकता से करें निपटारा
इस अवसर पर उपायुक्त द्वारा प्रशासकीय दक्षता बैठक की समीक्षा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सेवा संकल्प योजना की लम्बित शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर त्वरित निपटारा सुनिश्चित करने के निर्देश दिये तथा कृत कार्यवाही की रिर्पोट प्रस्तुत करने को कहा।
अधिकारी मुख्यमंत्री की घोषणाओं को निर्धारित समयावधि में करें पूरा
उन्होंने अधिकारियों को अपने कार्य में दक्षता लाने के साथ यह निर्देश दिए कि मुख्यमंत्री की जितनी भी घोषणाएं है उन्हें लक्ष्य निर्धारित समयावधि में पूरा करें। किसी भी कार्य में कोताही न बरतें तथा इन घोषणाओं को पूरा करने के लिए सभी विभाग आपसी तालमेल के साथ कार्य करते हुए पूर्ण करें जिसके फलस्वरुप इन योजनाओं का लाभ शीघ्र आमजन मानस को मिल सके।
जल संरक्षण के प्रति आमजन को करें जागरूक
जल संरक्षण के प्रति आमजन को जागरूक करने के लिए ‘कैच द रेन’ अभियान के तहत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त पंकज राय ने कहा कि ‘कैच द रेन’ अभियान के तहत जिला बिलासपुर में जल संरक्षण के संदेश को जन-जन तक पहंुचाने तथा पारम्परिक स्त्रोतों के संरक्षण और संवर्धन पर विशेष बल दिया जा रहा है।  
उन्होंने बताया कि इस अभियान की शुरूआत जल संरक्षण के बारे लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए की गई है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत चैक डैम, वाॅटर हार्वैस्टिंग, हार्वैस्टिंग पीट इत्यादि बनाए जाएंगे। उन्होंने जल शक्ति तथा पंचायती राज विभाग से कहा कि वे जिला के पारम्परिक जल स्त्रोत, बावड़ियों, बोर-कुओं इत्यादि की सूची एकत्रित कर डाटा तैयार करें ताकि इसे मिशन मोड में लाया जा सके।
उन्होंने बताया कि लोगों की भागीदारी से भू-जल स्तर को बेहतर बनाने के लिए यह अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान का उद्ेश्य जल संग्रहण के प्रति अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करना है ताकि उपयुक्त जल भण्डारण सुनिश्चित किया जा सके।
बैठक में ये सभी रहे उपस्थित  
इस बैठक में पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त तोरुल रवीश, सहायक आयुक्त सिद्धार्थ आचार्य सहित सभी उपमण्डलों के उपमण्डलाधिकारी अनैलसिस् वीडियो काॅफ्रेसिंग के माध्यम से मौजूद रहे। विभिन्न विभागों के विभागध्यक्ष भी बैठक में उपस्थित रहे।